×

B Ed की काउंसलिंग 6 जून से शुरू, जानिए जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

By

Published on 3 Jun 2016 12:55 PM GMT

B Ed की काउंसलिंग 6 जून से शुरू, जानिए जुड़ी महत्वपूर्ण बातें
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : यूपी में बीएड कॉलेजों में एडमिशन के लिए 6 जून से 25 जून तक काउंसलिंग होगी। गुरुवार को बीएड-2016 के आयोजक लखनऊ यूनिवर्सिटी (एलयू) की ओर से सभी काउंसलिंग केंद्रों के अधीक्षकों की बैठक में केंद्र अधीक्षकों को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन से जुड़े अहम निर्देश दिए गए।

काउंसलिंग लेटर करें डाउनलोड

-काउंसलिंग के दौरान यदि किसी अभ्यर्थी को सीट अलॉट नहीं होती है तो उसका 5000 रुपए का ड्राफ्ट वापस कर दिया जाएगा।

-यह ड्राफ्ट काउंसलिंग केंद्र पर 15 दिन तक रखा रहेगा। फिर उसे एलयू में जमा कर दिया जाएगा।

-एलयू में आने के बाद भी जो अभ्यर्थी एक महीने तक अपना ड्राफ्ट वापस नहीं लेंगे, उनकी रकम एलयू के खाते में जमा कर दी जाएगी।

-काउंसलिंग से जुड़ी अन्य जानकारी www.upbed.nic.in वेबसाइट पर देख सकते है।

-इसी वेबसाइट से अभ्यर्थी अपना काउंसलिंग लेटर डाउनलोड कर सकते हैं।

डॉक्यूमेंट्स और फोटोकॉपी लाना है अनिवार्य

-एलयू के कुलसचिव और बीएड के राज्य नोडल अधिकारी डॉ. एके मिश्रा ने बताया कि जो अभ्यर्थी अपनी रैंक के अनुसार निर्धारित तिथि पर काउंसलिंग के लिए आएंगे।

-वे अपने साथ 2 बैंक डिमांड ड्राफ्ट लाएंगे।

-इनमें से एक 500 और दूसरा 5000 रुपए का होगा।

-यह ड्राफ्ट ‘वित्त अधिकारी, लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ’ के नाम पर देय होगा।

-काउंसलिंग के दौरान अभ्यर्थियों को अपने सभी ओरिजनल डॉक्यूमेंट और उनकी फोटोकॉपी दोनों ही केंद्र पर लाना अनिवार्य है।

-डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद अभ्यर्थी के रेजिस्ट्रेशन मोबाइल नंबर पर उसका पासवर्ड आएगा।

-इसकी सहायता से वह निर्धारित समय में कहीं से भी ऑनलाइन चॉइस फिलिंग करेगा।

-सीट अलॉट होने के बाद अभ्यर्थी को 3 दिन के अंदर बची हुई फीस जमा करनी होगी, अन्यथा उसकी सीट निरस्त कर दी जाएगी।

काउंसलिंग के लिए ये है केंद्र

काउंसलिंग के लिए आगरा, अलीगढ़, आजमगढ़, जौनपुर, झांसी, मेरठ, गाजियाबाद कानपुर, वाराणसी, लखनऊ, इलाहाबाद, फैजाबाद, बरेली और गोरखपुर में कुल 32 केंद्र बनाए गए हैं। लखनऊ में काउंसलिंग के लिए विवि के कला व शिल्प महाविद्यालय में 3 केंद्र बनाए गए हैं।

Next Story