अगर आपको है कला में रूचि तो ये कोर्स कर बना सकते हैं बेहतर करियर

इसके अलावा इस कोर्स के बाद या तो फ्रीलांसिंग कर पैसा कमा सकते हैं या फिर विजुअलाजिंग प्रोफेशनल, इलस्ट्रेटर, आर्ट क्रिटिक, आर्टिस्ट, आर्ट प्रोफेशनल्स, डिजाइन ट्रेनर बनकर भी खासा पैसा कमा सकते हैं या फिर इसी तरह के अन्य क्षेत्रों में हुनर दिखाकर छात्र इस फील्ड में पैसा कमा सकते हैं।

नई दिल्ली: आज की नई पीढ़ी कुछ खास और क्रिएटिव करने में भरोसा रखती हैं, जिसमें उनके अभिभावक भी उनके सपने को हकीकत में बदलने में उनका सहयोग कर रहे हैं। वहीं फैशन की इस दुनिया में फाइन आर्ट्स की तरफ भी युवा आर्कषित हो रहे हैं। इसके अलावा जिन छात्रों का रुझान पेंटिंग, मूर्तिकला और अन्य तरह की कला में हैं। ऐसे छात्रों के लिए यह फील्ड काफी बेहतर साबित हो सकता है।

फाइन आर्ट्स के कोर्स के माध्यम से न सिर्फ छात्र पेंटिग्स आदि बनाकर अपनी कला को निखार सकते हैं बल्कि, अपने शौक के साथ इसमें बेहतरीन करियर भी बना सकते हैं। फाइन आर्ट्स आज का डिमांडिंग सब्जेक्ट्स भी बन चुका है।

कर सकते हैं बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स (बीएफए) का कोर्स

जो लोग फाइन आर्ट्स के क्षेत्र में अपना करियर बनाकर अपनी किस्मत आजमाना चाहते हैं, ऐसे लोगों के लिए बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स का कोर्स एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। 12वीं के बाद छात्र यह कोर्स बेहद आसानी से कर सकते हैं। इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों को प्रवेश परीक्षा देनी होती है, तो वहीं कई ऐसे शिक्षण संस्थान भी हैं जो मेरिट के आधार पर दाखिला देते हैं। यह 4 साल का डिग्री कोर्स हैं। इस कोर्स के बाद ही छात्रों के लिए नौकरी की कई विकल्प खुल जाते हैं।

खास बात यह है कि 12वीं के बाद किसी भी स्ट्रीम के छात्र बैचलर इन फाइन आर्ट्स में अपना करियर बना सकते हैं। छात्र चाहें तो फाइन आर्ट्स के क्षेत्र में उच्च शिक्षा भी हासिल कर सकते हैं। छात्र इसी में 2 साल का मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स भी कर सकते हैं। वहीं जिन छात्रों के मास्टर डिग्री में 50 फीसदी अंक आते हैं, वे छात्र पीएचडी भी कर सकते हैं।

तेजी से बढ़ रहा फाइन आर्ट्स का स्कोप

फाइन आर्ट्स का स्कोप तेजी से बढ़ा है, वहीं अगर पिछले कुछ सालों के रिकॉर्ड्स को खंगाला जाए तो इस क्षेत्र में जॉब की संभावनाएं भी तेजी से बढ़ी हैं। आपको बता दें कि फाइन आर्ट्स ग्रेजुएट वालों की सबसे ज्यादा मांग सॉफ्टवेयर कंपनीज, डिजाइन फर्म्स, टेलीविजन चैनल्स, एनीमेशन स्टूडियो, टेक्सटाइल इंडस्ट्री, एडवरटाइजिंग कंपनीज, डिजिटल मीडिया, पब्लिशिंग हाउसेज, मीडिया हाउसेज़, आर्ट स्टूडियो और फिल्मों में स्पेशल इफेक्ट्स के इस्तेमाल के लिए बढ़ी है।

यहां भी कर सकते हैं काम 

इस क्षेत्र का दायरा सीमित नहीं है, इसका दायरा काफी बढ़ गया है। फाइन आर्ट्स का कोर्स करने के बाद इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए ऐड डिपार्टमेंट, अखबार या पत्रिका में इलस्ट्रेटर, कार्टूनिस्ट, एनिमेटर आदि के तौर पर भी काम किया जा सकता है। यही नहीं इसके अलावा भी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, टेलीविजन, फिल्म/ थिएटर प्रोडक्शन, प्रोडक्ट डिजाइन, एनिमेशन स्टूडियो, टेक्सटाइल डिजाइनिंग आदि में भी इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए तमाम विकल्प मौजूद हैं।

फाइन आर्ट्स वाले छात्रों के लिए विजुअल आर्टिस्ट, एनिमेटर या ग्राफिक डिजाइनर जैसे पोस्ट भी मौजूद हैं। इसके अलावा शिक्षण संस्थानों में आर्ट टीचर बनने, प्रोफेशनल कला समीक्षक, आर्ट स्पेशलिस्ट, आर्ट डीलर, आर्ट थैरेपिस्ट, पेंटर की जॉब भी हैं। वहीं अगर आप अपनी क्रिएटिविटी डिजाइनिंग में दिखाना चाहते हैं, तो आप प्रोडक्ट डिजाइनिंग, ऑटोमोबाइल डिजाइनिंग में पैसा कमा सकते हैं।

इसके अलावा इस कोर्स के बाद या तो फ्रीलांसिंग कर पैसा कमा सकते हैं या फिर विजुअलाजिंग प्रोफेशनल, इलस्ट्रेटर, आर्ट क्रिटिक, आर्टिस्ट, आर्ट प्रोफेशनल्स, डिजाइन ट्रेनर बनकर भी खासा पैसा कमा सकते हैं या फिर इसी तरह के अन्य क्षेत्रों में हुनर दिखाकर छात्र इस फील्ड में पैसा कमा सकते हैं।

इन इंडस्ट्रीज में है पैसा कमाने का मौका

फाइन आर्ट्स में डिग्री हासिल करने और स्पेशलाइजेशन के बाद छात्र एनिमेशन इंडस्ट्री विज्ञापन कंपनी, आर्ट स्टूडियो, फैशन हाउस, पत्र-पत्रिकाएं, स्कल्पचर, टेलीविजन, पब्लिशिंग इंडस्ट्री, ग्राफिक आर्ट, टीचिंग, फिल्म व थिएटर प्रोडक्शन, टेक्सटाइल इंडस्ट्री, प्रोफेशनल कंपनी में काम कर पैसा कमा सकते हैं या फिर इलस्ट्रेटर, एनिमेटर, ग्राफिक डिजाइनर, विजुअल डिजाइनर, डिजिटल डिजाइनर, क्रिएटिव मार्केटिंग प्रोफेशनल, फ्लैश प्रोग्रामर, 2डी/ 3डी आर्टिस्ट, वेब डेवलपर, क्राफ्ट आर्टिस्ट, लेक्चरार, आर्ट टीचर, कार्टूनिस्ट, आर्ट म्यूजियम टेक्निशियन, आर्ट कंजर्वेटर, आर्ट डायरेक्टर, क्रिएटिव डायरेक्टर, एडवरटाइजिंग एग्जीक्यूटिव/ सुपरवाइजर/ हैड, प्रोजेक्ट ऑफिसर आदि जैसे पदों पर भी काम कर सकते हैं।

लाखों में कमाएं

आपको आपके एक्सपीरियंस के हिसाब से पैसा मिलता है। जितना एक्सपीरियंस आप गेन करते जाएंगे उतनी ही आपकी पेमेंट बढ़ती जाएगी। बहुत से लोग पुरानी पेटिंग्स वगैरह को रीस्टोर या फिर से बनवाते हैं, तो इस तरह के कामों से भी आपको अच्छा पेमेंट मिल सकता है। आज एक पेंटिंग्स से आर्टिस्ट लाखों कमाते हैं। अगर पेंटिंग पर बहुत बारीकियों से काम किया गया है तो उसकी कीमत और भी ज्यादा हो जाती है। यदि एक बार आपके काॅन्टैक्ट बन जाएं तो आपको घर बैठे पेटिंग के लिए आर्डर आने लगते हैं। इसके लिए सोशल साइट्स पर आप खुद अपना प्रचार-प्रसार कर सकते हैं। सरकार की तरफ से भी आर्टिस्टों को मदद मिलती है। कई ऐसी सरकारी गैलरी हैं जो फ्री सेवा दे रही हैं।

यहां ले सकते हैं एडमिशन

बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, वाराणसी
दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
कॉलेज ऑफ आर्ट, दिल्ली
जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ़
टीजीसी एनिमेशन एंड मल्टीमीडिया, दिल्ली
सर जेजे इंस्टीट्यूट ऑफ अप्लाइड आर्ट्स, मुंबई
इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स, मोदीनगर
कला भवन, विश्वा भारती यूनिवर्सिटी