×

CBSE: अगले साल से फरवरी में होगी 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा

अगले साल 2018 से केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा मार्च की बजाए फरवरी में आयोजित की जाएगी। सीबीएसई का कहना है कि अंकों के मूल्यांकन में किसी तरह की गलती न हो इसी को ध्यान में रखते हुए परीक्षा को एक महीने पहले किए जाने की तैयारी हो रही है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 21 Jun 2017 5:11 AM GMT

CBSE: अगले साल से फरवरी में होगी 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : अगले साल 2018 से केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा मार्च की बजाए फरवरी में आयोजित की जाएगी। सीबीएसई का कहना है कि अंकों के मूल्यांकन में किसी तरह की गलती न हो इसी को ध्यान में रखते हुए परीक्षा को एक महीने पहले किए जाने की तैयारी हो रही है।

इसके साथ ही परीक्षा की पूरी प्रक्रिया जो अभी 45 दिनों तक चलती है, उसे भी घटाकर एक महीने में खत्म करने पर विचार किया जा रहा है। फिलहाल, बोर्ड परीक्षाएं 1 मार्च से लेकर 20 अप्रैल तक चलती हैं।

खबर पूरी पढ़ने के लिए आगे की स्लाइड्स में जाएं...

क्या कहना है सीबीएसई के चेयरमैन का?

सीबीएसई के नतीजों में गड़बड़ी का मुद्दा सामने आने के बाद इवैल्यूएशन प्रक्रिया में सुधार करने के मद्देनजर ही सीबीएसई परीक्षा को एक महीने पहले आयोजित करवाने के बारे में सोच रहा है। सीबीएसई के चेयरमैन आरके चतुर्वेदी का कहना है, 'अप्रैल महीने तक छुट्टियां शुरू हो जाती हैं और अनुभवी शिक्षक उपलब्ध नहीं होते। लिहाजा मूल्यांकन को मध्य मार्च तक ले जाने से हमें उत्तर पुस्तिकाएं चेक करने के लिए बेस्ट टीचर्स मिल जाएंगे। अप्रैल में स्कूल की छुट्टियों के वक्त इवैल्यूएशन प्रॉसेस के लिए स्कूल्स हमें अस्थायी, ऐडहॉक और नए शिक्षक देते हैं क्योंकि अनुभवी शिक्षक छुट्टी पर होते हैं और वे सहायता करना नहीं चाहते।'

खबर पूरी पढ़ने के लिए आगे की स्लाइड्स में जाएं...

यूजी के दाखिले में मिलेगी मदद

चतुर्वेदी का कहना है कि परीक्षा एक महीने पहले कराने से रिजल्ट जारी की तारीख भी एडवांस हो जाएगी। आमतौर पर सीबीएसई के बोर्ड परीक्षा के नतीजे मई महीने के तीसरे या चौथे हफ्ते में आते हैं। चतुर्वेदी ने कहा, 'परीक्षा को 15 फरवरी के आसपास करा लिया जाएगा और हम यह भी कोशिश कर रहे हैं कि परीक्षा की पूरी प्रक्रिया एक महीने के अंदर समाप्त हो जाए।' बोर्ड का ऐसा मानना है कि परीक्षा के परिणाम जल्दी घोषित करने से भी सीबीएसई के बच्चों को अंडरग्रेजुएट (UG) एडमिशन प्रॉसेस में मदद मिलेगी।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story