इस नए प्लान से सुरक्षित होंगे सीबीएसई के ऑनलाइन प्रश्नपत्र

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन (सीबीएसई) अब आने वाली सभी परीक्षाओं में स्कूलों को ऑनलाइन प्रश्नपत्र भेजेगा। शुरुआती दौर में यह व्यवस्था एक पायलट प्रोजेक्ट के तहत कुछ वोकेशनल पेपर्स से शुरू की जाएगी। सीबीएसई के सेक्रेटरी अनुराग त्रिपाठी ने यह जानकारी दी। परीक्षाओं को पारदर्शी और सुरक्षित बनाने के लिए यह निर्णय लिया गया है।

लखनऊ : सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन (सीबीएसई) अब आने वाली सभी परीक्षाओं में स्कूलों को ऑनलाइन प्रश्नपत्र भेजेगा। शुरुआती दौर में यह व्यवस्था एक पायलट प्रोजेक्ट के तहत कुछ वोकेशनल पेपर्स से शुरू की जाएगी। सीबीएसई के सेक्रेटरी अनुराग त्रिपाठी ने यह जानकारी दी। परीक्षाओं को पारदर्शी और सुरक्षित बनाने के लिए यह निर्णय लिया गया है।

एग्जाम सेंटर को दी जाएगी डिजिटल की

अनुराग ने बताया कि संबंधित सेंटर की जिम्मेदारी होगी कि वे सुरक्षित ढंग से पेपर के प्रिंट निकाल कर छात्रों को दें। इसके लिए सेंटर्स प्रभारी को एक डिजिटल की दी जाएगी। इसकी मदद से प्रश्नपत्र का प्रिंटआउट निकाल सकेंगे, जिसकी पूरी वीडियो रेकॉर्डिंग की जाएगी।

पिछले साल लीक हुआ था पेपर

पिछले साल बोर्ड परीक्षा के दौरान इंटरमीडिएट के इकोनॉमिक्स का पेपर लीक होने के बाद सीबीएसई ने ऑनलाइन प्रश्नपत्र बनाने की योजना बनाई है।

शिक्षकों को किया जाएगा ट्रेन

अनुराग त्रिपाठी ने कहा कि सीबीएसई अपने छात्रों को पहले से बेहतर शिक्षा देना चाहता है। छात्रों का लर्निंग लेवल बढ़ाने के लिए टीचर्स को ट्रेंड किया जाएगा। इसमें सभी टीचर्स को ऑनलाइन ट्रेनिंग की सुविधा भी दी जाएगी।

पेपर्स होंगे इनोवेटिव

अनुराग ने बताया कि 2020 में बोर्ड एग्जाम के पेपर्स को इनोवेटिव बनाया जाएगा ताकि स्टूडेंट्स आसानी से उन्हें हल कर लें। इससे स्टूडेंट्स के मेंटल प्रेशर को कम करने में मदद मिलेगी।