×

UPPSC PCS 2014: आयोग ने उत्तरपुस्तिका दिखाने से किया इंकार

यूपी लोकसेवा आयोग की अहम परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं के रखरखाव पर फिर सवाल उठ रहे हैं। आयोग ने पीसीएस 2014 की उत्तरपुस्तिका दिखाने से कैंडिडेट्स को मना कर दिया है। आयोग का कहना है कि तय समय सीमा के बाद कॉपियां नष्ट की जा चुकी हैं।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 15 Jun 2017 9:12 AM GMT

UPPSC PCS 2014: आयोग ने उत्तरपुस्तिका दिखाने से किया इंकार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

इलाहाबाद : यूपी लोकसेवा आयोग की अहम परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं के रखरखाव पर फिर सवाल उठ रहे हैं। आयोग ने पीसीएस 2014 की उत्तरपुस्तिका दिखाने से कैंडिडेट्स को मना कर दिया है। आयोग ने कहा है कि तय समय सीमा के बाद कॉपियां नष्ट की जा चुकी हैं। प्रतियोगियों का कहना है कि यह प्रकरण न्यायालय पहुंच चुका है, तब आयोग कॉपियों का संरक्षण क्यों नहीं कर रहा है।

आयोग की सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (पीसीएस) परीक्षा 2014 की उत्तरपुस्तिका देखने के लिए हिमांशु सिंह ने सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत आवेदन किया था। 25 मई को भेजे पत्र पर आयोग ने 9 जून को उसे जवाब भेजा है।

जलवाने का लगा था आरोप

जनसूचना अधिकारी सत्यप्रकाश ने लिखा है कि तय समय सीमा तक संरक्षित किए जाने के बाद 2014 परीक्षा की उत्तर पुस्तिका विनष्ट की जा चुकी है। अब उसका अवलोकन कराया जाना संभव नहीं है। असल में 2011 तक की उत्तरपुस्तिकाओं को पूर्व आयोग अध्यक्ष अनिल यादव के कार्यकाल में जलवाने का आरोप लगा था।

यह प्रकरण इस समय न्यायालय में भी विचाराधीन है।

खड़े हुए गंभीर सवाल

बता दें कि पीसीएस 2015 की कॉपी सुहासिनी बाजपेई को दिखाने के बाद से ही आयोग पर गंभीर सवाल खड़े हुए हैं। इस प्रकरण का असर आयोग के कामकाज पर पड़ा है और भर्तियों की सीबीआई जांच होने की तलवार भी लटक रही है। शायद इसीलिए अब कॉपियां दिखाने में पूरी सतर्कता बरती जा रही है।

क्या कहना है अवनीश पांडेय का?

प्रतियोगी मोर्चा के अवनीश पांडेय का कहना है कि आयोग के जवाब से स्पष्ट है कि वह कॉपियां दिखाना नहीं चाहता है और यदि वाकई कॉपियां विनष्ट की जा चुकी हैं तो भी यह अपराध है, क्योंकि प्रकरण की सुनवाई अभी पूरी नहीं हुई है। इस पर आयोग का तर्क है कि कोर्ट ने आयोग को उत्तरपुस्तिकाएं विनष्ट करने से रोका नहीं है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story