×

DU की नई पहल: एसिड अटैक सर्वाइवर के लिए सीट होगी आरक्षित

दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) ने इस साल उन एसिड पीड़िताओं के लिए अंडर ग्रेजुएट (UG) कोर्स से सीट रिजर्व करने की नई पहल की है। इस कदम से उन छात्राओं को मदद मिलेगी जो इस तरह के हमले के बाद आगे पढ़ना छोड़ देती है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 28 May 2017 8:03 AM GMT

DU की नई पहल: एसिड अटैक सर्वाइवर के लिए सीट होगी आरक्षित
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) ने इस साल उन एसिड पीड़िताओं के लिए अंडर ग्रेजुएट (UG) कोर्स से सीट रिजर्व करने की नई पहल की है। इस कदम से उन छात्राओं को मदद मिलेगी जो इस तरह के हमले के बाद आगे पढ़ना छोड़ देती है। इन छात्रों के लिए उम्मीद की नई किरण जगाई है।

ये भी पढ़ें... DU ADMISSION 2017: सेंट स्टीफेंस और जीसस एंड मैरी कॉलेज में दाखिले शुरू

डीयू देश की पहली यूनिवर्सिटी है जिसने राइट ऑफ डिसेबिलिटीज एक्ट, 2016 के तहत विकलांग छात्रों के लिए सीट का आरक्षण 3 से 5 पर्सेंट कर दिया था। वहीं आने वाले समय में विकलांगों कि लिए डीयू 2500 सीटें आरक्षित करेगा। जहां thalassemia और dwarfism पीड़ित छात्रों को एडमिशन के लिए सीटें आरक्षित की जाएगी।

ये भी पढ़ें... DU में कम अंकों के कारण नहीं मिल रहा एडमिशन, तो यहां ले सकते है दाखिला

शारीरिक विकलांगता की कैटेगरी बढ़ी

बता दें डीयू ने पीडब्लूडी छात्रों के लिए पिछले साल 3% सीट आरक्षित की थी। वहीं कॉलेज ने कोटे के तहत शारीरिक विकलांगता की कैटेगरी बढ़ा दी हैं। इससे पहले, केवल तीन कैटेगरी थीं, लेकिन अब पांच कैटेगरी कर दी गई हैं। बता दें, इस साल विकलांग स्टूडेंट्स के द्वारा 260 फॉर्म दाखिले के लिए रजिस्ट्रर किए गए हैं।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story