×

DU Cut Off List 2017: तीसरी कटऑफ में एडमिशन का लास्ट चांस

दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) की तीसरी कटऑफ के लिए सोमवार को एडमिशन कराने के लिए आखिरी अवसर है। डीयू एक्सपर्ट का कहना है कि तीसरी कटऑफ के एडमिशन क्लोज होने के साथ चौथी कटऑफ में सामान्य कैटेगरी के लिए एडमिशन का मौका सीमित रह जाएगा।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 9 July 2017 3:13 PM GMT

DU Cut Off List 2017: तीसरी कटऑफ में एडमिशन का लास्ट चांस
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) की तीसरी कटऑफ के लिए सोमवार को एडमिशन कराने के लिए आखिरी अवसर है। डीयू एक्सपर्ट का कहना है कि तीसरी कटऑफ के एडमिशन क्लोज होने के साथ चौथी कटऑफ में सामान्य कैटेगरी के लिए एडमिशन का मौका सीमित रह जाएगा।

डीयू प्रशासन ने छात्रों को सलाह दी है कि वह चौथी कटऑफ में मौका ढूंढने के बजाए तीसरी कटऑफ में जहां पर भी मौका मिले वह एडमिशन करा लें।

क्या कहा डीयू ने?

डीयू ने कहा है कि छात्र बड़ी संख्या में पसंदीदा कॉलेज में अवसर मिलने पर पहले से लिए गए एडमिशन रद्द करा रहे है। छात्रों को ध्यान देना होगा कि पहले उन्हें जहां एडमिशन मिल रहा है वहां करा लें। उसके बाद ही पहले से लिए गए एडमिशन को कैंसिल कराएं। कही ऐसा न हो कि दाखिला रद्द कराने के बाद छात्र दूसरी जगह एडमिशन लेने से भी चूक जाएं।

20 हजार सीटें शेष

डीयू मान रहा है कि चौथी कटऑफ में एडमिशन के अवसर बेहद सीमित हो जाएंगे। डीयू की 56 हजार सीटों में से अब तक 36,185 सीटों पर फीस जमा कराकर छात्रों ने एडमिशन कंफर्म करा लिया है। यह आंकड़े शनिवार शाम 5 बजे तक के है। सोमवार को दाखिले के लिए डीयू में 20 हजार सीटें और बची है।

चौथी कटऑफ में सीमित सीटें

डीयू को उम्मीद है कि तीसरी कटऑफ के आखिरी दिन कम से कम 5 हजार एडमिशन और होंगे। ऐसे में चौथी कटऑफ में दाखिले के लिए बेहद सीमित सीटें बचेगी। कटऑफ भी ज्यादा नीचे आने की उम्मीद कम होगी। बीते साल कटऑफ गिराने पर डीयू के कई कॉलेजों पर एक-एक सीट पर 10-10 दाखिले लेने पड़े थे। इससे छात्रों की संख्या बढ़ गई थी। डीयू 5 कटऑफ तो निकालेगा लेकिन कटऑफ में अब ज्यादा गिरावट की उम्मीद ना के बराबर है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story