×

बिहार फर्जी टॉपर केस: संजय के बाद प्रिंसिपल सहित 3 गिरफ्तार, अन्य आरोपियों की तलाश जारी

बिहार में फर्जी टॉपर मामले में पुलिस ने शनिवार को रोसड़ा निवासी संजय नामक एक शख्स को भी गिरफ्तार किया था। इसके बाद पुलिस ने इस मामले में समस्‍तीपुर के संजय गांधी हाईस्कूल की प्रिंसिपल देव कुमारी, उनके पति और पूर्व सचिव रामकुमार चौधरी और बेटे गौतम को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने स्कूल का ताला खुलवाकर कुछ डॉक्यूमेंट्स भी जब्त किए हैं।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 4 Jun 2017 11:32 AM GMT

बिहार फर्जी टॉपर केस: संजय के बाद प्रिंसिपल सहित 3 गिरफ्तार, अन्य आरोपियों की तलाश जारी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पटना : बिहार में फर्जी टॉपर मामले में पुलिस ने शनिवार को रोसड़ा निवासी संजय नामक एक शख्स को भी गिरफ्तार किया था। इसके बाद पुलिस ने इस मामले में समस्‍तीपुर के संजय गांधी हाईस्कूल की प्रिंसिपल देव कुमारी, उनके पति और पूर्व सचिव रामकुमार चौधरी और बेटे गौतम को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने स्कूल का ताला खुलवाकर कुछ डॉक्यूमेंट्स भी जब्त किए।

पूछताछ जारी

संजय ने ही बिहार बोर्ड के इस साल के इंटर आर्ट्स के फर्जी टॉपर रहे गणेश कुमार का मैट्रिक और इंटर में फॉर्म भरवाने में मदद की थी। फिलहाल संजय से पुलिस पूछताछ जारी है। समस्‍तीपुर के संजय गांधी हाईस्‍कूल से गणेश ने 2015 में 10वीं की परीक्षा पास की थी। डॉक्यूमेंट्स में संजय ने गणेश को अपना आश्रित बताते हुए उसकी जन्मतिथि 2 जून, 1993 दर्ज करवाई थी।

पूरे बिहार में था नेटवर्क

-संजय पटना में शिक्षा माफिया के रूप में जाना जाता था।

-वह पटना से पूरे बिहार में अपना नेटवर्क चला रहा था।

-पुलिस गिरफ्त में आने के बाद संजय ने पटना पुलिस के सामने कई सनसनीखेज खुलासे किए।

-संजय की गिरफ्तारी के बाद ही प्रिंसिपल देव कुमारी, उनके पति रामकुमार चौधरी और बेटे गौतम को गिरफ्तार किया गया।

अन्य आरोपी फरार

वहीं इस मामले में रामनंदन सिंह जगदीश नारायण इंटर कॉलेज के संचालक और बीजेपी नेता जवाहर प्रसाद सिंह और उनके प्रिंसिपल बेटे अभितेंद्र कुमार की गिरफ्तारी भी तय मानी जा रही है। दोनों अभी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश में दबिश दे रही है। इसी कॉलेज से गणेश ने 12वीं आर्ट्स की परीक्षा पास की थी। साल 2011 में इस कॉलेज की स्थापना हुई थी। कॉलेज की कार्यप्रणाली भी जांच के दायरे में है। फिलहाल इसकी मान्‍यता रद्द कर दी गई है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story