×

NEET UG Exam 2022: नीट परीक्षा में जांच के नाम पर हदें पार, छात्राओं के अंडरगारमेंट्स भी उतरवाए, विवाद बढ़ा

NEET Exam UG 2022 की परीक्षा के दौरान केरल से हैरान कर देने वाला केस सामने आया है। यहां कोल्लम जिले में सख्ती के नाम पर छात्राओं के अंडर गारमेंट्स तक उतरवा दिए गए। विवाद बढ़ गया है।

aman
Written By aman
Updated on: 2022-07-18T17:20:19+05:30
girl students forced remove inner wear kollam district in kerala neet ug exams 2022
X

NEET UG Exam 2022 (प्रतीकात्मक चित्र)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

NEET UG Exam 2022 : नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (National Eligibility cum Entrance Test) यानी NEET एग्जाम के के दौरान हैरान कर देने वाला मामला सामने आया। यह घटना परीक्षा जांच के नाम पर शर्मसार कर देने वाली है। नीट परीक्षा (NEET UG Exam 2022) में सख्ती के नाम पर छात्राओं के अंडरगारमेंट्स तक उतरवा दिए गए। ये मामला केरल (Kerala) के कोल्लम जिले (Kollam District) से सामने आया है। वहीं, दूसरी तरफ, मार्थोमा संस्थान ने इस घटना से इनकार किया है, तो वहीं छात्राओं के परिजनों ने पुलिस से शिकायत कर केस दर्ज करवाया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

NEET UG Exam 2022 से जुड़ा एक अन्य मामला राजस्थान के कोटा शहर के मोदी कॉलेज (Modi College, Kota) सेंटर से सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस सेंटर पर चार मुस्लिम छात्राएं हिजाब पहनकर पहुंचीं जिन्हे मेन गेट पर पुलिस वालों ने रोक लिया। जब छात्राओं ने हिजाब (Hijab) हटाने से इनकार किया तो पुलिस ने उन्हें समझाया और ड्रेस कोड (Dress Code) का हवाला दिया। बावजूद वो नहीं मानीं। इतना ही नहीं बुर्का पहनी छात्राओं के परिवार वाले भी अड़ गए। जिसके बाद उनसे लिखित में लिया गया कि परीक्षा के संबंध में कोई भी निर्णय लिया जाएगा तो उसके लिए वो स्वयं जिम्मेदार होंगी।

NEET Exam 2022 के लिए महिला और पुरुष के ड्रेस कोड :

- ड्रेस कोड (Dress Code) के मुताबिक, परीक्षार्थी को कैजुअल तथा मौसम के अनुरूप कपड़े पहनकर आने को कहा गया है।

- परीक्षार्थियों (Examinees) को छोटी एड़ी के साथ सैंडल तथा खुली चप्पल पहने की परमिशन दी गई है।

- अभ्यर्थी को प्रथागत या सांस्कृतिक (Cultural) रूप से उपयुक्त कपड़े या पोशाक पहनने की अनुमति दी गई है।

- हालांकि, इन कपड़ों में आने वाले उम्मीदवारों को तलाशी के लिए रिपोर्टिंग समय (Reporting Time) से कम से कम 2 घंटे पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा।

- सामान (luggage) या आस्था की वस्तुओं (प्रथागत/सांस्कृतिक/धार्मिक आदि) की अनुमति है। लेकिन, ऐसे छात्रों को उचित तलाशी के लिए रिपोर्टिंग समय से दो घंटे पहले पहुंचना होगा।

- परीक्षार्थियों को पूरी बाजू वाले हल्के रंग के कपड़ों में आने की अनुमति नहीं दी गई है।

- उम्मीदवारों को जूते पहनने की अनुमति भी नहीं दी गई है।

कोटा में चेहरा ढंकने के बाद भी मिला प्रवेश

जैसा कि आपने ऊपर देखा कि नीट परीक्षा नियमों के तहत छात्रों को पूरी आस्तीन के कपड़े भी पहनने की इजाजत नहीं है। ऐसे में अगर कोई छात्र ऐसा करता है तो उसके आस्तीन को काटने बाद ही परीक्षा में बैठने की इजाजत होती है। साथ ही कुंडल, बाली, घड़ी सहित अन्य सभी वस्तुओं को रख लिया जाता है। मगर, कोटा वाले मामले में पहली बार देखने में आया कि दो छात्राएं अपने चेहरे को लपेटकर परीक्षा केंद्र में प्रवेश कीं। हालांकि, उन्हें जांच के बाद जाने दिया गया था।

aman

aman

Next Story