बुंदेलखंड में 99,000 छात्राओं को मिलेगा कन्या विद्या धन,300 करोड़ खर्च

Published by Newstrack Published: March 11, 2016 | 1:36 pm
Modified: March 16, 2016 | 12:09 pm

लखनऊ: राज्य सरकार ने सूखे की समस्या से जूझ रहे बुंदेलखंड की छात्राओं को कन्या विद्या धन देने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गुरुवार को इसके आदेश जारी कर दिए। इस वित्त वर्ष में 99,000 हजार छात्राओं को कन्या विद्या धन दिया जाना है। इसके कुल 300 करोड़ रुपए बजट का प्रावधान किया है।

इंटर पास लाभार्थी छात्रा को मिलेगी मदद

-योजना में इंटरमीडिएट पास करने वाली प्रत्येक छात्रा को एकमुश्त 30,000 हजार रुपए की मदद दी जाती है।
-शासन के सूत्रों के मुताबिक, लक्ष्य का 90% हिस्सा जारी सभी जिलों को आबंटित कर दिया गया।
-जबकि 10% हिस्सा जारी नहीं किया गया था।
-बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री ने इस 10% हिस्से को बुंदेलखंड के 7 जिलों को आवंटित करने के निर्देश दिए।

यूपी बोर्ड की छात्राओं को मिलेगा लाभ
कन्या विद्या धन के लिेए शासन ने संशोधित नियमावली जारी कर दी है। इसमें कहा गया है कि सीबीएसई, आईसीएसई, उत्तरप्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश शिक्षा परिषद  के तहत छात्राएं न मिलने पर लाभार्थियों का चयन यूपी बोर्ड की छात्राओं में से किया जाएगा। एक ही बोर्ड की छात्राओं के मेरिट में अंक समान होने पर ज्यादा उम्र वाली छात्रा को तरजीह दी जाएगी।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App