×

NEET- 2017: आयु सीमा मामले में अभ्यर्थियों को राहत, HC ने CBSE को फॉर्म स्वीकार करने के दिए आदेश

aman

amanBy aman

Published on 29 March 2017 6:18 PM GMT

NEET- 2017: आयु सीमा मामले में अभ्यर्थियों को राहत, HC ने CBSE को फॉर्म स्वीकार करने के दिए आदेश
X
हाईकोर्ट ने पूछा- काम बौद्ध धर्म से जुड़ी चीजों के अध्ययन का, तो इतनी शानोशौकत क्यों?
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने सीबीएसई को NEET- 2017 के लिए सैकड़ों अभ्यर्थियों के फॉर्म स्वीकार करने के निर्देश दिए हैं। ये वो छात्र हैं जिनकी उम्र 25 वर्ष से अधिक होने के कारण परीक्षा में शामिल होने से अयोग्य घोषित कर दिया गया था।

यह आदेश जस्टिस एपी साही और जस्टिस संजय हरकौली की खंडपीठ ने दिया। यह आदेश सैकड़ों अभ्यर्थियों की ओर से अलग-अलग दाखिल कई याचिकाओं को एक साथ निस्तारित करते हुए पारित किया।

कोर्ट ने ये निर्देश सुप्रीम कोर्ट द्वारा गत मार्च को पारित एक आदेश के मद्देनजर जारी किया, जिसमें कुछ 25 वर्ष पूरा कर चुके अभ्यर्थियों को भी नीट का फॉर्म भरने की इजाजत दी गई है। हालांकि, कोर्ट ने स्पष्ट किया कि यह सुप्रीम कोर्ट के सामने विचाराधीन ऐसी ही मांग करने वाली अन्य याचिकाओं में पारित होने वाले अग्रिम आदेशों के अधीन होगा।

ये कहा था याचियों ने

याचियों की ओर से कहा गया था कि NEET परीक्षा के लिए अधिकतम आयु सीमा 25 वर्ष का निर्धारण करना संबंधित प्रावधानों के अनुरूप नहीं है। याचियों की ओर से दलील दी गई, कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया अधिनियम भी आयु सीमा के उक्त निर्धारण का समर्थन नहीं करता। याचियों की ओर से यह भी कहा गया कि न्यूनतम आयु सीमा 17 वर्ष किए जाने का प्रावधान तो है, लेकिन अधिकतम आयु सीमा के निर्धारण का प्रावधान नहीं।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत दिया निर्देश

वहीं 28 मार्च को मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट का 20 मार्च का एक आदेश प्रस्तुत किया गया, जिसमें कुछ अभ्यर्थियों को फॉर्म भरने की अनुमति दिए जाने के साथ-साथ सीबीएसई को फॉर्म स्वीकार करने के निर्देश दिए गए थे। हाईकोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के उक्त आदेश के तहत याची अभ्यर्थियों का भी फॉर्म स्वीकार करने के निर्देश दिए।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story