कैदियों को अच्छा इंसान बनाने के लिए IGNOU ने शुरू किया ये कोर्स

नई दिल्ली: महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर कैदियों को अच्छा इंसान बनाने के लिए इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी ईग्नू ने गांधी स्मृति और दर्शन स्मृति के साथ मिलकर ‘पीस स्टडीज ऐंड कॉन्फ्लिक्ट मैनेजमेंट’ पर एक सर्टिफिकेट प्रोग्राम शुरू किया है।

इग्नू के वीसी प्रफेसर नागेश्वर राव ने बताया कि यह प्रोग्राम कैदियों के लिए नि:शुल्क उपलब्ध रहेगा। उन्होंने कहा कि कैदी समाज पर बोझ नहीं हैं बल्कि इस प्रोग्राम की मदद से उनको समाज की संपत्ति बनने में मदद मिलेगी।

डिजिटल स्टडी मटीरियल को प्रोत्साहन देने के लिए युनिवर्सिटी ने उठाया ये कदम

इंदिरा गांधी नैशनल ओपन यूनिवर्सिटी ने हाल ही में ई-स्टडी मटीरियल लेने वाले छात्रों की प्रोग्राम फीस में 15 फीसदी कमी आने के बाद यूनिवर्सिटी ने डिजिटल स्टडी मटीरियल को प्रोत्साहन देने के लिए कहा एक नोटीफिकेशन जारी कर बताया है कि जो स्टूडेंट्स प्रिंटेड मटीरियल के बजाय डिजिटल मटीरियल को चुनेंगे उन्हें इंसेंटिव के तौर पर 15 फीसदी प्रोग्राम फीस वापस कर दी जाएगी।

फिलहाल यह स्कीम उन स्टूडेंट्स के लिए ही है जिन्होंने जुलाई 2018 के सेशन में एडमिशन लिया है। इस स्कीम का फायदा उठाने के लिए स्टूडेंट्स को अपने IGNOU अकाउंट में लॉगइन करना पड़ेगा और e-Study मटीरियल ऑप्शन चुनना होगा।

गांधी स्मृति में आयोजित इस सर्टिफिकेट प्रोग्राम के शुभारंभ के मौके पर सांसद विनय सहस्रबुद्ध, इग्नू के वीसी नागेश्वर राव और अन्य गणमान्य हस्तियां मौजूद थीं।