×

JEE एडवांस-2017 में प्रमाण पत्र होंगे मान्य,OBC सर्टिफिकेट के नियम में बदलाव

By

Published on 20 Sep 2016 4:01 AM GMT

JEE एडवांस-2017 में प्रमाण पत्र होंगे मान्य,OBC सर्टिफिकेट के नियम में बदलाव
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मेरठ: आईआईटी की संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) एडवांस 2017-18 का पेपर देने वाले ओबीसी (नान क्रीमिलेयर) छात्रों को अब नियम से प्रमाण पत्र बनवाना होगा। इसका सर्कुलर ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड (जैब) ने जारी कर दिया है। जैब के अनुसार अब 1 अप्रैल 2017 के बाद बने ओबीसी के प्रमाण पत्र मान्य होंगे।

जेईई एडवांस का आयोजन 21 मई 2017 को

-बता दे कि जेइई एडवांस 21 मई 2017 को आयोजित किया जाएगा।

-रविवार को आईआईटी मद्रास में जैब की मीटिंग बुलाई गई थी।

-वहां चेयरमैन प्रो प्रेम बिष्ट की मौजूदगी में देश की 22 आईआईटी में एडमिशन की रणनीति बनाई गई।

-केंद्र सरकार के कार्मिक मंत्रालय के आदेश का अध्ययन किया गया।

-नई गाइडलाइन के हिसाब से बने 1 अप्रैल 2017 के बाद ओबीसी प्रमाण पत्रों का मान्य करने फैसला हुआ।

-ओबीसी प्रमाण पत्र की अनिवार्यता पर चर्चा की गई।

-बता दे अभी तक हर तीसरे साल प्रमाण पत्र बनवाने और काउंसलिंग के दौरान जमा करने की अनिवार्यता थी।

-अगले शैक्षिक सत्र में यह व्यवस्था खत्म हो जाएगी। नए नियम से प्रमाण पत्र बनवाए जा सकेंगे।

प्रमाण पत्र बनवाने की अनिवार्यता में छूट

-आईआईटी की 27 फीसदी सीटें ओबीसी के लिए आरक्षित है।

-सामान्य कोटे से भी ओबीसी संवर्ग के छात्रों को दाखिला मिलता है।

-इसे ध्यान में रखते हुए प्रमाण पत्र बनवाने की अनिवार्यता से छूट दी गई है।

एसएमएस से जानकारी

-जेईई एडवांस के आॅनलाइन रजिस्ट्रेशन, क्रेडिट और डेबिट कार्ड से फीस जमा करने, रिजल्ट, काउंसलिंग के समय च्वाइस फिलिंग की जानकारी छात्रों को एसएमएस से दी जाएगी। यह सुविधा नि:शुल्क होगी।

-साथ ही इलेक्ट्रोनिक्स (शार्ट वीडियो) और कागजी स्टडी मैटेरियल उपलब्ध कराया जाना है।

Next Story