Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

JNU शुरू करेगा एनिमल वेलफेयर से जुड़े 6 नए सर्टिफिकेट कोर्स, ऐसे करें आवेदन

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) ने घोषणा की कि पशु कल्याण से जुड़े 6 नए कोर्सेज को कंडक्ट किया जाएगा। इसका उद्देश्य स्टूडेंट्स को पशुओं के उपचार के लिए संवेदनशीलता और नैतिकता के आधार पर छात्रों को प्रशिक्षित करना है। पशुओं के प्रबंधन और नैतिक प्रयोगशाला के अनुसंधान के इस्तेमाल से संबंधित पहले कोर्स का संचालन 1 नवंबर से होगा और कम से कम 85 घंटों की पढ़ाई होगी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 20 Oct 2016 1:55 PM GMT

JNU शुरू करेगा एनिमल वेलफेयर से जुड़े 6 नए सर्टिफिकेट कोर्स, ऐसे करें आवेदन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) ने घोषणा की कि पशु कल्याण से जुड़े 6 नए कोर्सेज को कंडक्ट किया जाएगा। इसका उद्देश्य स्टूडेंट्स को पशुओं के उपचार के लिए संवेदनशीलता और नैतिकता के आधार पर छात्रों को प्रशिक्षित करना है।

पशुओं के प्रबंधन और नैतिक प्रयोगशाला के अनुसंधान के इस्तेमाल से संबंधित पहले कोर्स का संचालन 1 नवंबर से होगा और कम से कम 85 घंटों की पढ़ाई होगी।

आगे की स्लाइड्स में जानिए आवेदन अंतिम तिथि...

लास्ट डेट 24 अक्टूबर

-पहले पाठ्यक्रम के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 24 अक्टूबर 2016 है।

-रजिस्ट्रेशन शुल्क 1,000 रुपए होगा।

-पहले साल के पाठ्यक्रम को मुफ्त में संचालित होगा।

-बाकी पांच पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी जेएनयू की वेबसाइट http://www.jnu.ac.in/ पर नवंबर में मिलेगी।

आगे की स्लाइड्स में जानिए जेएनयू से जुड़ी अन्य जानकारियां...

एमओयू का परिणाम

-पाठ्यक्रम एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) का परिणाम है, जिस पर जुलाई में जेएनयू और राष्ट्रीय पशु कल्याण संस्थान द्वारा हस्ताक्षर किया गया था।

-समझौते के अनुसार, जेएनयू 6 सर्टिफिकेट कोर्स (चार हप्ते का समय) और एक डिप्लोमा पाठ्यक्रम (पांच हफ्ते की अवधि ) संचालित करेगा।

-इस समझौते को मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय और वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की ओर से शुरू किया गया।

-जेएनयू के प्रोफेसर प्रसेनजीत कोे मुताबिक कोर्स का संचालन जेएनयू में होगा।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story