Top

90 कॉलेजों ने नहीं ली डिग्रियां, 15 हजारों छात्रों के FUTURE पर सवाल

Admin

AdminBy Admin

Published on 22 Feb 2016 2:34 PM GMT

90 कॉलेजों ने नहीं ली डिग्रियां, 15 हजारों छात्रों के FUTURE पर सवाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय से संबद्ध प्रदेश के 90 कॉलेजों ने अपने स्टूडेंट्स की डिग्रियां अभी तक नहीं ली हैं। इससे लगभग 15 हजार स्टूडेंट्स का भविष्य अधर में है।

कौन है जिम्मेदार

एकेटीयू ने इस मामले में संज्ञान में लेते हुए 12 फरवरी को सभी कॉलेजों से स्पष्टीकरण मांगते हुए पूछा था कि वे डिग्रियां क्यों नहीं ले जा रहे हैं। परीक्षा विभाग ने कॉलेजों को 15 से 18 फरवरी के बीच यूनिवर्सिटी से डिग्री लेने का समय दिया था। इसके बावजूद 90 कॉलेज ऐसे हैं जिन्होंने न तो विवि को जवाब देने की जरूरत समझी और न ही छात्रों की डिग्री लेने पहुंचे।

परीक्षा नियंत्रक ने कहा

यूनिवर्सिटी के परीक्षा नियंत्रक बीएन मिश्रा ने बताया कि डिग्रियां न लेने वाले कॉलेजों से प्रतिदिन 10 हजार रुपए अर्थदंड लेने के लिए उनकी सूची तैयार की जा रही है। मंगलवार तक सूची तैयार होने के बाद कॉलेजों पर कार्रवाई शुरू हो सकती है। यदि सभी कॉलेजों में औसतन 200 छात्र-छात्राएं मानें तो भी करीब 15 हजार की डिग्रियां फंसी हुई हैं।

कुलपति ने कहा

एकेटीयू के कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक ने बताया कि कॉलेजों की सूची तैयार हो रही है। दोषी कॉलेजों पर पूर्व निर्धारित नियमों के अनुसार अर्थदंड लगाया जाएगा। यह भी देखा जाएगा कि स्टूडेंट्स को दिक्कत न हो और उन्हें किस तरह डिग्री उपलब्ध कराई जा सकती है। दो-तीन दिन में तस्वीर साफ हो जाएगी।

Admin

Admin

Next Story