Top

UP :18 मॉडल स्कूलों में बनेंगे हॉस्टल, अगले सेशन से शुरू होंगी CLASSES

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 30 March 2016 11:57 AM GMT

UP :18 मॉडल स्कूलों में बनेंगे हॉस्टल, अगले सेशन से शुरू होंगी CLASSES
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : उत्तर प्रदेश (यूपी) सरकार ने 18 मॉडल स्कूलों में छात्र और छात्राओं के लिए अलग-अलग हॉस्टल बनवाने का फैसला किया है। इनमें से 16 मॉडल स्कूल मंडल मुख्यालयों के जिलों में स्थित है, जबकि एक कन्नौज और एक सुलतानपुर में है। इस संबंध में शासन ने माध्यमिक शिक्षा विभाग से एस्टीमेट मांगा है।

यूपी में समाजवादी अभिनव विद्यालय योजना के तहत हर मंडल में एक-एक मॉडल स्कूल बनवाए गए हैं। ये स्कूल माध्यमिक शिक्षा विभाग की देखरेख मे चलेंगे। लेकिन इनकी संबद्धता सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (सीबीेएसई) से होगी।

अगले सत्र से शुरु होंगी कक्षाएं

-इनमें 6 से 12 तक की कक्षाएं चलेंगी।

-हर कक्षा में 2 सेक्शन होंगे। कक्षा 6 से 8 तक के एक सेक्शन में 35 स्टूडेंट्स होंगे।

-उससे ऊपर की कक्षाओं के एक सेक्शन में 40 स्टूडेंट्स होंगे।

-मॉडल स्कूल की अधिकतम स्टूडेंट्स की संख्या 530 तय की गई है।

-स्कूलों की बिल्डिंग तैयार हो चुकी है।

इन जगहों पर बनेंगे हॉस्टल

करौरा (लखनऊ), बिजौली (आगरा), छलेसर (जवां, अलीगढ़), दादूपुर(इलाहाबाद), तेरही (महराजगंज), बभनान (बस्ती), नेतवर बाजार (गोरखपुर), अतरछेड़ी (बरेली), नरायनपुरदेवा (मुरादाबाद), सरधुवां (चित्रकूट), कुरैठा (झांसी) , कंसापुर प्रथम (गोंडा) ,टिकरीपन्ना (सुल्तानपुर), जसोदा (कन्नौज), बली (मेरठ), कालूवाला पहाड़ीपुर (सहारनपुर), भोजपुर (मिर्जापुर) और आराजीलाइन (वाराणसी)।

Newstrack

Newstrack

Next Story