Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

IISR के रिसर्च स्‍कॉलर्स जाएंगे अग्रसेन यूनिवर्सिटी, एमओयू किया साइन

sujeetkumar

sujeetkumarBy sujeetkumar

Published on 4 Jan 2017 5:16 AM GMT

IISR के रिसर्च स्‍कॉलर्स जाएंगे अग्रसेन यूनिवर्सिटी, एमओयू किया साइन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: राजधानी स्थित इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ शुगरकेन रिसर्च (आईआईएसआर) और हिमाचल प्रदेश की महाराजा अग्रसेन यूनिवर्सिटी में मंगलवार को एक एमओयू साइन किया गया। इंटरनेशनल लेवल पर फेमस आईआईएसआर ने साल 2013 में स्‍थापित और कम समय में बुलंदी छू रहे महाराजा अग्रसेन यूनिवर्सिटी से पैक्‍ट किया है। इसके तहत एक दूसरे संस्‍थानों के रिसर्च स्‍कॉलर्स और वैज्ञानिक एक दूसरे के यहां जाकर अध्‍ययन करेंगे और अपनी रिसर्च शेयर कर सकेंगे।

इस मौके पर डाॅ. अभिषेक अवस्थी, विभागाध्यक्ष, जीवन विज्ञान विभाग, महाराजा अग्रसेन विश्वविद्यालयय डाॅ. ए.के. शर्मा, प्रभारी, पी.एम.ई. प्रकोष्ठ डाॅ. एस.के. शुक्ल, परियोजना समन्वयक (गन्ना) और रत्नेश कुमार, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

कौशल विकास में भी साथ मिलकर देंगे योगदान

- आईआईएसआर के डायरेक्‍टर डॉ एडी पाठक ने बताया कि महाराजा अग्रसेन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर. के. गुप्ता के साथ एमओयू साइन किया गया है।

- इस एमओयू के चलते जहां एक ओर स्‍कालर्स एक दूसरे से रिसर्च शेयर करेंगे।

- वहीं इस समझौते के माध्यम से दोनों संस्थाओं को कई सारे क्षेत्रों जैसे साइंस एंड टेक्‍नॉलॉजी, एग्रीकल्‍चर, कौशल विकास, मूल्य-परक शिक्षा और अनुसंधान में सहयोग के साथ काम करने में सहायता प्राप्त होगी।

- वहीं अग्रसेन यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर गुप्‍ता ने बताया कि आईआईएसआर के साथ एमओयू में हार्दिक प्रसन्‍नता हुई है।

sujeetkumar

sujeetkumar

Next Story