×

NCERT की 12वीं की किताबों में बदलाव, गुजरात दंगों में नहीं कहा जाएगा एंटी मुस्लिम

साल 2002 में हुए गुजरात दंगों को अब नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) की किताबों में 'एंटी मुस्लिम' नहीं कहा जाएगा। इसे 'गुजरात दंगों' के नाम से पढ़ाया जाएगा। एनसीआरटी ने कक्षा 12वीं की किताबों में ये बदलाव करने की तैयारी कर ली है। ये फैसला कोर्स रिव्‍यू कमेटी की बैठक में लिया गया। ये बैठक सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) और एनसीआरटी ने ली थी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 20 May 2017 8:54 AM GMT

NCERT की 12वीं की किताबों में बदलाव, गुजरात दंगों में नहीं कहा जाएगा एंटी मुस्लिम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : साल 2002 में गुजरात में हुए दंगों को अब नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) की किताबों में 'एंटी मुस्लिम' नहीं कहा जाएगा। इसे 'गुजरात दंगों' के नाम से पढ़ाया जाएगा।

ये भी पढ़ें... CBSE स्कूलों का करेगा मूल्यांकन! अब अच्छे स्कूल का चुनाव करना होगा आसान

एनसीआरटी ने कक्षा 12वीं की किताबों में ये बदलाव करने की तैयारी कर ली है। ये फैसला कोर्स रिव्‍यू कमेटी की बैठक में लिया गया। ये बैठक सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) और एनसीआरटी ने ली थी।

ये भी पढ़ें...मई कें अंत में जारी होंगे CBSE के 10वीं और 12वीं परिणाम

इस पर होगा बदलाव

-ये बदलाव कक्षा 12वीं की टेक्टबुक में किया जाएगा।

-इस किताब को साल 2007 में यूपीए की सरकार के समय छापा गया था।

-खबरों के मुताबिक, ये बदलाव इस साल के अंत तक किताबों के रि‍प्रिंट होने के बाद दिखाई देने लगेगा।

ये भी पढ़ें... CBSE की चेतावनी: स्कूल कैंपस में किताबें और यूनिफॉर्म न बेचें, रद्द हो सकती है मान्यता

-बता दें कि कक्षा 12वीं की पॉलिटिकल साइंस की टेक्‍स्‍टबुक 'पॉलिटिक्स इन इंडिया सिंस इंडिपेंटेंस' के पेज 187 पर 'एंटी मुस्लिम राइट्स इन गुजरात' नाम से ये सब्जेक्ट पढ़ाया जा रहा है।

-सूत्रों के मुताबिक, अभी केवल टाइटल चेंज करने पर सहमति जताई गई है।

ये भी पढ़ें... CBSE 12वीं की कोर्स बुक में ’36-24-36′ को बताया फीमेल का बेस्ट फिगर

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story