×

UP में असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती के लिए अब बिना नेट भी कर सकेंगे आवेदन

यूपी के यूनिवर्सिटी और डिग्री कॉलेजों में बिना नेट और जेआरएफ किए पीएचडीधारक कैंडिडेट्स भी असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर आवेदन कर सकेंगे। यूजीसी की ओर से ढील दिए जाने के बाद शनिवार को यूपी सरकार ने भी इस बारे में शासनादेश जारी कर दिया।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 9 April 2017 9:34 AM GMT

UP में असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती के लिए अब बिना नेट भी कर सकेंगे आवेदन
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : यूपी के यूनिवर्सिटी और डिग्री कॉलेजों में बिना नेट और जेआरएफ किए पीएचडीधारक कैंडिडेट्स भी असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर आवेदन कर सकेंगे। यूजीसी की ओर से ढील दिए जाने के बाद शनिवार को यूपी सरकार ने भी इस बारे में शासनादेश जारी कर दिया।

भरे जाएंगे खाली पद

यूपी के उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कई यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में सहायक प्रोफेसर के अधिक संख्या में पद खाली हैं। इन पदों पर भर्तियां रुकी हुई हैं। पीएचडी धारक कैंडिडेट्स को नेट से छूट प्रदान करने के बाद खाली पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू होगी।

पढ़ाई के स्तर में भी सुधार

उन्होंने कहा कि शिक्षकों की उपलब्धता होने से लिखने-पढ़ने के स्तर में भी सुधार आएगा। उपमुख्यमंत्री ने शनिवार को सचिवालय स्थित दफ्तर में उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक में छूट प्रदान करने के निर्देश दिए।

इनको मिली छूट

गौरतलब है कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के ताजा आदेश के अनुसार विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में सहायक प्रोफेसर के पद पर भर्ती हेतु अनिवार्य अर्हता नेट/स्लेट/सेट से ऐसे कैंडिडेट्स को छूट दी की गई है, जिनके द्वारा पीएचडी रेग्युलेशन, 2009 के लागू होने की तिथि 11 जुलाई, 2009 तक निर्धारित मानकों के अनुसार पीएचडी की उपाधि प्राप्त कर ली हो।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story