×

टॉपर्स का रिएलिटी चेक: नहीं पता अपने ही जिले के राष्ट्रकवि के बारे में, इन सवालों के जवाब भी नहीं मालूम

aman

amanBy aman

Published on 9 Jun 2017 8:02 PM GMT

टॉपर्स का रिएलिटी चेक: नहीं पता अपने ही जिले के राष्ट्रकवि के बारे में, इन सवालों के जवाब भी नहीं मालूम
X
टॉपर्स का रिएलिटी चेक: नहीं पता अपने ही जिले के राष्ट्रकवि के बारे में, इन सवालों के जवाब भी नहीं मालूम
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2017 का परिणाम बुधवार को घोषित कर दिया गया। इन परीक्षाओं में जिले की दो बेटियों ने ही बाजी मार प्रदेश में जिले का नाम रोशन किया। प्रियांशी तिवारी इलाहाबाद बोर्ड की इंटर की यूपी टॉपर हैं तो तेजस्वी बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा में यूपी टॉपर हैं।

लेकिन पड़ोसी राज्य बिहार में दो सालों से जिस तरह टॉपर घोटाला सामने आ रहा है, वैसे में newstrack.com की टीम ने भी इन टॉपरों का रियलिटी चेक किया।

ये भी पढ़ें ...बीहड़ से निकली टॉपर: किसान की बेटी भावना ने इंटरमीडिएट में पाया प्रदेश में दूसरा स्थान

अपने जिले के राष्ट्रकवि के बारे में भी नहीं पता

बता दें, कि यूपी बोर्ड की इंटर परीक्षा में प्रियांशी तिवारी ने हिन्दी विषय में 99 फीसदी अंक हासिल किए हैं। लेकिन हैरत की बात है कि इस टॉपर को हिन्दी साहित्य के शलाका पुरुषों में शुमार जिले के बिंदकी क़स्बा निवासी राष्ट्रकवि पंडित सोहनलाल द्विवेदी के बारे में कुछ भी नहीं पता। यह टॉपर अपने ही जिले के राष्ट्रकवि के बारे में बिल्कुल भी नहीं जानती।

ये भी पढ़ें ...UP बोर्ड टॉपर्स: टॉप- 10 में 4 बच्चे हरदोई के, 95.33% के साथ क्षितिज ने पाया दूसरा स्थान

तुलसीदास पर भी हाथ खड़े किए

इतना ही नहीं रामचरित मानस के रचयिता तुलसीदास को इसने अपने कोर्स में ना होने की बात कहते हुए टाल गई। इस टॉपर से तुलसी दास के जन्म-मृत्यु सहित उनके माता-पिता और पत्नी के बारे में जब सवाल किया गया तो उसने बताने में असमर्थता जताई। इतना ही नहीं इनसे जब त्वरण और गुरुत्वीय त्वरण के बारे पूछा गया तो वो भी इन्हें नहीं पता था। हालांकि, अनुप्रास, अलंकार की परिभाषा ठीक-ठीक बताकर हिन्दी व्याकरण में अपनी योग्यता जरूर साबित की।

ये भी पढ़ें ...UP Board Result 2017: कानपुर के एक ही स्कूल की दो छात्राओं ने हासिल किया चौथा स्थान

इन्हें भी नहीं पता कौन हैं द्विवेदी जी

वहीं, जब इलाहाबाद बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा की यूपी टॉपर तेजस्वी से जब पंडित सोहन लाल द्विवेदी के बारे में पूछ गया तो उन्हें कुछ भी नहीं पता था। जबकि, इस टॉपर को हिन्दी विषय में 95 फीसदी अंक मिले हैं। इस सवाल पर टॉपर ने उल्टा सवाल पूछा कि कौन सोहन लाल द्विवेदी? जब बताया गया कि राष्ट्रकवि सोहन लाल द्विवेदी कब और कहां पैदा हुए थे? कहां के रहने वाले थे, तो उसने अनभिज्ञता जताई।

वहीं, जब तेजस्वी से रामचरित मानस जैसे ग्रंथ के रचयिता तुलसीदास और उनके मृत्यु आदि से जुड़े सवाल किए गए तो गलत जवाब देते हुए स्थान काशी बताया।

ये कहा कॉलेज के प्रिंसिपल ने

इस संबंध में जब तेजस्वी के स्कूल जय मां सरस्वती बाल मंदिर इंटर कॉलेज राधानगर के प्रबंधक/प्रधानाचार्य विनय प्रताप सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि 'उनके विद्यालय की 10 छात्राओं ने हाईस्कूल की यूपी मेरिट में स्थान बनाया है। जबकि इंटर की चार छात्राओं भी यूपी मेरिट में जगह बनाई है।'

रिजल्ट 'बिहार पैटर्न' पर तो नहीं?

एक ही स्कूल से मेरिट धारकों की इतनी बड़ी संख्या से जहां विद्यालय गर्व की अनुभूति कर रहा है, वहीं लोगों में अचरज और अविश्वास का माहौल है कि कहीं ये रिजल्ट 'बिहार पैटर्न' पर ही तो नहीं हैं।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story