Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

DU के आवेदन में अंग्रेजी ऑनर्स का रहा क्रेज, मैथ्स में आई कमी

By

Published on 11 Jun 2016 1:07 PM GMT

DU के आवेदन में अंग्रेजी ऑनर्स का रहा क्रेज, मैथ्स में आई कमी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) के कॉलेजों में अंग्रेजी ऑनर्स की कट ऑफ बढ़ने के आसार दिख रहे हैं। दरअसल, बीते साल की तरह इस बार भी डीयू की आवेदन प्रक्रिया में अंग्रेजी ऑनर्स का क्रेज सबसे ज्यादा रहा है।

पॉलिटिकल साइंस में दिखाई रुचि

-बीते सालों में ईको ऑनर्स, बीकॉम प्रोग्राम का क्रेज इस बार कम हो गया है।

-वहीं पॉलिटिकल साइंस ऑनर्स के लिए आवेदकों ने जबरदस्त रुचि दिखाई है।

-अब तक की आवेदन प्रक्रिया में इस बार छात्रों की पहली पसंद अंग्रेजी ऑनर्स है ।

-बीते साल की आवेदन प्रक्रिया में ईको ऑनर्स टॉप 10 कोर्सेस में 6वें स्थान पर था, लेकिन इस बार इसने टॉप 5 में जगह बनाई है।

-राजनीति शास्त्र ऑनर्स ने बीकॉम और ईको ऑनर्स को पीछे छोड़ते हुए तीसरे स्थान पर पहुंच गया है।

-विशेषज्ञों की माने तो राजनीति शास्त्र जैसे कोर्सेज में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स आगे चलकर सिविल सर्विसेज की तैयारी करेंगे।

-सिविल सर्विसेज की तैयारी करने वाले छात्रों का यह पसंदीदा विषय है। इसलिए हर साल इन विषयों को लेकर क्रेज बढ़ रहा है।

मैथ्स ऑनर्स रहा फीका

-डीयू में जारी आवेदन प्रक्रिया के साथ-साथ फॉर्मों की विश्लेषण प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

-अभी तक जिस तरह से कोर्सेज के लिए आवेदन आ रहे हैं। उससे कुछ हद तक मनपसंद कोर्स की स्थिति अब साफ हो चुकी है।

-पिछले कई सालों से सुर्खियों में रहने वाला गणित ऑनर्स का क्रेज इस बार दिखाई नहीं दे रहा है।

-सीबीएसई रिजल्ट में गणित विषय में आए कम नंबरों को इसका कारण बताया जा रहा है।

-गणित शिक्षक व डिप्टी डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ. गुरप्रीत सिंह टुटेजा कहते हैं कि जिन्होंने गणित पढ़ी है उन्हें गणित ऑनर्स, कंप्यटूर साइंस, सांख्यिकी ऑनर्स, और बीएससी जनरल मैथमेटिकल कोर्स के लिए जरूर आवेदन करना चाहिए।

-सूत्र बताते हैं कि अंग्रेजी के लिए अब तक 80 फीसदी, बीए के लिए 70 फीसदी और पोलीटिकल साइंस के लिए लगभग 50 फीसदी आवेदन प्राप्त हो चुके हैं।

Next Story