×

NEET 2017: SC ने दी इजाजत, 25 साल से ज्यादा उम्र के स्टूडेंट्स भी दे सकेंगे एग्जाम

मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI) ने इस साल नेशनल एलिजिबिलटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) में बैठने वाले स्टूडेंट्स के लिए अधिकतम उम्र सीमा 25 साल तय की थी। जिसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। इस साल सुप्रीम कोर्ट ने नीट परीक्षा के लिए तय की गई 25 साल की उम्र सीमा को हटा दिया गया है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 31 March 2017 2:34 PM GMT

NEET 2017: SC ने दी इजाजत, 25 साल से ज्यादा उम्र के स्टूडेंट्स भी दे सकेंगे एग्जाम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्‍ली : मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI) ने इस साल नेशनल एलिजिबिलटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) में बैठने वाले स्टूडेंट्स के लिए अधिकतम उम्र सीमा 25 साल तय की थी। जिसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। इस साल सुप्रीम कोर्ट ने नीट परीक्षा के लिए तय की गई 25 साल की उम्र सीमा को हटा दिया गया है।

ये भी पढ़ें... NEET- 2017: आयु सीमा मामले में अभ्यर्थियों को राहत, HC ने CBSE को फॉर्म स्वीकार करने के दिए आदेश

जुलाई में होगी सुनवाई

-सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इसके लिए उम्मीदवार 5 अप्रैल तक फॉर्म भर सकते है।

-परीक्षा 7 मई को होगी।

-इस आदेश के बाद 25 साल से ऊपर के लाखों छात्रों को लाभ मिलेगा।

-इस मामले में मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के अधिकतम उम्र सीमा तय करने के खिलाफ दाखिल याचिका पर जुलाई में सुनवाई होगी।

अधिक जानकारी के लिए आगे की स्लाइड्स में जाएं...

इस साल अधिक छात्र होंगे शामिल

-इस साल प्रवेश परीक्षा के लिए 11.35 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया है।

-पिछले साल के मुकाबले इस साल 41 प्रतिशत अधिक है।

-साल 2016 में 8.02 लाख से अधिक कैंडिडेट्स ने एंट्रेंस एग्जाम के लिए अप्लाई किया था।

ये भी पढ़ें... NEET 2017: परीक्षा आयोजन वाले 80 शहरों में 23 नए शहर जुड़े

8 भाषाओं मेों होगा संचालन

-बता दें, नीट का आयोजन मेडिकल और डेंटल कॉलेज में एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में प्रवेश के लिए किया जाता है।

-इस परीक्षा में उन कॉलेजों में प्रवेश मिलता है, जो मेडिकल कांउसिल ऑफ इंडिया और डेटल कांउसिल ऑफ इंडिया की ओर से संचालित किया जाता है।

-इस साल नीट का आयोजन आठ भाषाओं- हिंदी, अंग्रेजी, असमी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, तमिल और तेलुगू में होगा।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story