×

JEE MAINS 2017: 100% मार्क्स हासिल करने वाले कल्पित की ऐसी है दिनचर्या, जानकर हैरान रह जाएंगे आप

कंपाउंडर पिता और उदयपुर की एक स्कूल टीचर मां का बेटा कल्पित वीरवल ने जेईई मेंस एग्जाम में 360 में से 360 अंक हासिल करके इतिहास रच दिया। 17 साल के कल्पित ने कोटा के किसी भी कोचिंग सेंटर की न मदद ली और एक साल का गैप लिए बिना ही इस परीक्षा में 100 फीसदी अंक प्राप्त कर पहला छात्र बन गया है। 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले कल्पित ने एससी वर्ग में एग्जाम दिया था। उसने एससी कैटेगरी में भी पहला स्थान प्राप्त किया है। इस बात की जानकारी खुद सीबीएसई चेरयपर्सन आरके चतुर्वेदी ने दी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 28 April 2017 9:03 AM GMT

JEE MAINS 2017: 100% मार्क्स हासिल करने वाले कल्पित की ऐसी है दिनचर्या, जानकर हैरान रह जाएंगे आप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : कंपाउंडर पिता और उदयपुर की एक स्कूल टीचर मां का बेटा कल्पित वीरवल ने जेईई मेंस एग्जाम में 360 में से 360 अंक हासिल कर इतिहास रच दिया है। 17 साल के कल्पित ने कोटा के किसी भी कोचिंग सेंटर की न मदद ली और एक साल का गैप लिए बिना ही इस परीक्षा में 100 फीसदी अंक प्राप्त कर पहले छात्र बन गए है। 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले कल्पित ने एससी वर्ग में एग्जाम दिया था।

उसने एससी कैटेगरी में भी पहला स्थान प्राप्त किया है। इस बात की जानकारी खुद सीबीएसई चेरयपर्सन आरके चतुर्वेदी ने दी।

वसुंदरा राजे ने दी बधाई

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंदरा राजे ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर लिखा, 'जेईई मेंस परीक्षा में 100 फीसदी अंक हासिल करने वाले कल्पित पहला छात्र बन गया है। राजस्थान को तुम पर गर्व है।'

अधिक जानकारी के लिए आगे की स्लाइड्स में जाएं...क्या कहा कल्पित ने?

-कल्पित ने बताया कि वह हर दिन 17 घंटे पढ़ाई करता है।

-वह पढ़ाई करने के बाद वह बैडमिंटन खेलने का समय निकाल लेता है।

-वीरवल ने बताया उसे कोल्डप्ले, लिंकिन पार्क और एड शिरिन का म्यूजिक बेहद पसंद।

-वह कक्षा 8 से ही इस परीक्षा के लिए कोचिंग इंस्टिट्यूट जाना शुरू कर दिया था।

-उसने कहा कि यह कोचिंग परीक्षा की तैयारी को समझने के लिए किया था। हालांकि पिछले साल से ही जेईई मेंस की तैयारी शुरू की थी।

क्या कहना है पिता का?

कल्पित के पिता पुष्पेंद्र वीरवल ने कहा, 'हमें अपने बेटे पर गर्व है। वह सुबह 6 बजे उठता है, स्कूल और कोचिंग से शाम 5 बजे तक फ्री होता है। थोड़ा सा ब्रेक लेने के बाद फिर से पढ़ाई करने लग जाता है।' कल्पित की मां एक सरकारी टीचर हैं।

इससे पहले भी कर चुका है टॉप

-केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने आईआईटी और एमएनआईटी कॉलेजों में एडमिशन लेने के गुरुवार (27 अप्रैल) को पहले पड़ाव जेईई मेंस परीक्षा के परिणाम जारी किए हैं।

-हालांकि कल्पित के माता-पिता को बिल्कुल हैरानी नहीं हुई। इससे पहले भी कल्पित 2013 में हुई इंडियन जूनियर साइंस ओलंपियाड और पिछले साल हुए नेशनल टैलेंट सर्च एग्जाम को भी टॉप कर चुका है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story