Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

कॉलेजों में UGC शुरू करेगा एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस प्रोग्राम, छात्रों को मिलेगा लाभ

इंजीनियर और डिग्री कॉलेजों में एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस प्रोग्राम शुरू होगा। यह फैसला यूनिवर्सिटी ग्रैंड कमिशन (यूजीसी) ने कॉलेजों में ग्रेजुएशन लेवल पर यह कोर्स शुरू करने के लिए किया है। इसे च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) के तहत चलाया जाएगा। यूजीसी ने इस बाबत पत्र भी जारी कर दिया है। स्टूडेंट्स को अपने पसंद के विषय चुनने का मौका मिलेगा।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 10 Oct 2016 10:25 AM GMT

कॉलेजों में UGC शुरू करेगा एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस प्रोग्राम, छात्रों को मिलेगा लाभ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : इंजीनियर और डिग्री कॉलेजों में एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस प्रोग्राम शुरू होगा। यह फैसला यूनिवर्सिटी ग्रैंड कमिशन (यूजीसी) ने कॉलेजों में ग्रेजुएशन लेवल पर यह कोर्स शुरू करने के लिए किया है।

इसे च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) के तहत चलाया जाएगा। यूजीसी ने इस बाबत पत्र भी जारी कर दिया है। स्टूडेंट्स को अपने पसंद के विषय चुनने का मौका मिलेगा।

ये भी पढ़ें... CBSE ने 10वीं बोर्ड की परीक्षा में होंगे बदलाव, शिक्षकों को भी मिलेगी खास ट्रेनिंग

युवाओं को मिलेगा हुनरमंद बनने का मौका

-यूजीसी का मानना है कि तेजी से बढ़ते विमान क्षेत्र में स्टूडेंट्स के लिए अभी तक तकनीकी शिक्षा का माहौल नहीं है।

-कॉलेजों में टेक्निकल स्किल की कमी होने के कारण एयर क्राफ्ट मेंटेनेंस कोर्स शुरू होना आवश्यक है।

-यह कोर्स स्किल इंडिया के तहत युवाओं को अपनी स्किल्स बढ़ाने का मौका मिलेगा।

-यूजीसी ने इस कोर्स के लिए मसौदा तैयार कर भेज दिया है।

-मसौदे पर अब एक महीने के अंदर लोग अपने सुझाव दे सकते हैं।

-इसके बाद ही इसे फाइनलाइज्ड किया जाएगा।

ये भी पढ़ें... IGNOU में PHD और MPHIL के लिए नोटिफिकेशन, लास्ट डेट 31 OCT

तकनीकि वैज्ञानिक विशेषज्ञता को मिलेगा बढ़ावा

-यूजीसी की ओर से एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस प्रोग्राम को शुरू करने के लिए विशेषज्ञों की एक समिति गठित की गई थी।

-इससे इस क्षेत्र में टेक्निकल-साइंटिफिक स्पेशलाइजेशन को बढ़ावा मिलेगा।

तैयार किया गया खाका

-यूजीसी ने एयर क्राफ्ट प्रोग्राम के लिए डिजाइन तैयार किया गया है।

-इस डिजाइन के अनुसार इसमें एयरनॉटिकल साइंस और एयरोडायनमिक्स सहित विभिन्न सब्जेक्ट्स के थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों का बड़ा महत्व है।

-इसमें कोर पाठ्यक्रम में 14 पेपर और एलेक्टिव कोर्स में 8 पेपर का प्रस्ताव दिया गया है।

-यह कोर्स सीबीसीएस के तहत होने से स्टूडेंट्स को फायदा होगा कि यह सभी यूनिवर्सिटी में इसका कोर्स एक ही होगा।

ये भी पढ़ें... AIIMS में 500 नौकरियां, 10वीं पास के लिए मौका, 23 अक्टूबर तक आवेदन

-छात्रों को इलेक्टिव कोर्स में अपनी पसंद के विषय चुनने का अवसर मिलेगा।

-इसके साथ ही किसी वजह से अगर स्टूडेंट्स को कुछ समय के लिए पढ़ाई छोड़नी पड़ी या दूसरी जगह जाना पड़ा तो वह दूसरे इंस्टिट्यूट में एडमिशन ले सकेंगे।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story