Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

UP: विश्व युवा कौशल दिवस पर लगेगा जॉब फेयर,प्रशिक्षितों को मिलेगा मौका

By

Published on 7 Jun 2016 3:09 PM GMT

UP: विश्व युवा कौशल दिवस पर लगेगा जॉब फेयर,प्रशिक्षितों को मिलेगा मौका
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : विश्व युवा कौशल दिवस के मौके पर 15 जुलाई को युवाओं के लिए यूपी सरकार जॉब फेयर का आयोजन करने जा रहा है। इस अवसर पर प्रशिक्षित युवकों को रोजगार के मोके उपलब्ध कराए जाएंगे।

-दो दिवसीय कार्यक्रम के पहले दिन रोजगार मेले में कंपनियां प्रशिक्षित युवकों का चयन करेंगी और दूसरे दिन उन्हें नियुक्ति पत्र जारी किया जाएगा।

-राज्य सरकार ने व्यावसायिक शिक्षा के जरिए प्रदेश के अधिक से अधिक युवकों को रोजगार से जोड़ने के लिए इस बार विश्व युवा कौशल दिवस के आयोजन का निर्णय लिया है।

-व्यावसायिक शिक्षा विभाग और कौशल विकास मिशन के अफसरों ने राज्यभर में कार्यक्रम का आयोजन कर युवकों का प्लेसमेंट देने की रूपरेखा बनाई है।

-ऑटो मोबाइल, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी क्षेत्र की कई कंपनियों से इस संबंध में बात हो चुकी है।

-शिक्षुता प्रशिक्षण योजना (एप्रेंटिसशिप) के अंर्तगत सर्वश्रेष्ठ कंपनी का चयन कर उसके प्रतिनिधि को समानित किया जाएगा।

-कार्यक्रम के लिए मिशन निदेशक सुरेंद्र सिंह को नोडल अफसर नामित किया गया है।

-पहली बार बड़े पैमाने पर इस रोजगार मेले का आयोजन किया जा रहा है।

-मेले में कौशल विकास के क्षेत्र में पिछले चार वर्ष के दौरान हासिल उपलब्धियों की झलक दिखेगी।

-इस मौके पर प्रदेश भर से करीब 4-5 हजार प्रशिक्षित युवकों को रोजगार दिलाने का प्रयास भी किया जाएगा।

इस अवसर पर होंगे कार्यक्रम

-सभी जिलों के राजकीय आटीआई में कौशल विकास योजनाओं से संबंधित कार्यक्रम और लखनऊ में प्रदेश स्तरीय आयोजन होगा।

-इसमें प्रशिक्षणार्थी, श्रेष्ठ अनुदेशक (अध्यापक), श्रेष्ठ प्रधानाचार्य और श्रेष्ठ संस्थान का चयन कर पुरस्कृत किया जाएगा।

-पिछले वर्ष की परीक्षा के टॉपर्स का चयन कर सम्मानित किया जाएगा ।

-राज्य स्तरीय कौशल प्रतियोगिता में सभी व्यवसायों से संबंधित स्टेट लेवल के टॉपर्स को भी सम्मानित किया जाएगा।

-सफल उद्यमी बन चुके राज्य के पुराने छात्र भी सम्मानित होंगे।

-जिलों में कौशल संगोष्ठी होगी, जिसमें बुद्धजीवियों के साथ कौशल विकास के क्षेत्र में गुणवत्तापरक बिंदुओं को लागू करने में आ रहीं कठिनाइयों को दूर करने पर चर्चा होगी।

Next Story