Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

UP में चुनाव से पहले भर्ती, 12 हजार प्राथमिक शिक्षकों की जल्द होगी नियुक्ति

विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले सरकार परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में एक बार और शिक्षकों की भर्ती करना चाहती है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कुछ समय पहले 4000 उर्दू शिक्षकों की भर्ती का एलान किया था। लिहाजा माध्यमिक शिक्षा परिषद ने जो प्रस्ताव भेजा है, जिसमें 12 हजार खाली पदों में से 4 हजार पदों को उर्दू शिक्षक के पद में बदलने की सिफारिश की है। बाकि 8 हजार पदों पर सामान्य भर्ती होगी। शिक्षकों के सामान्य पदों को उर्दू शिक्षक के पद में परिवर्तित करने के मकसद से बेसिक शिक्षा विभाग ने प्रस्ताव को कार्मिक विभाग को उसकी राय के लिए भेजा है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 2 Nov 2016 12:08 PM GMT

UP में चुनाव से पहले भर्ती, 12 हजार प्राथमिक शिक्षकों की जल्द होगी नियुक्ति
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : माध्यमिक शिक्षा विभाग ने परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 12 हजार रिक्त पदों पर शिक्षकों की भर्ती का प्रस्ताव भेजा है। इनमें से अधिकतर पद इसी साल 31 मार्च को शिक्षकों के रिटायरमेंट की वजह से खाली हुए हैं।

4000 उर्दू शिक्षकों की भर्ती का एलान

-विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले सरकार परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में एक बार फिर शिक्षकों की भर्ती करना चाहती है।

-मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कुछ समय पहले 4000 उर्दू शिक्षकों की भर्ती का एलान किया था।

-लिहाजा माध्यमिक शिक्षा परिषद ने जो प्रस्ताव भेजा है, जिसमें 12 हजार खाली पदों में से 4 हजार पदों को उर्दू शिक्षक के पद में बदलने की सिफारिश की है।

ये भी पढ़ें... BBAU छात्र कर सकेंगे IIT बॉम्बे के कोर्स, ये पाठ्यक्रम होंगे संचालित

-बाकि 8 हजार पदों पर सामान्य भर्ती होगी।

-शिक्षकों के सामान्य पदों को उर्दू शिक्षक के पद में परिवर्तित करने के मकसद से बेसिक शिक्षा विभाग ने प्रस्ताव को कार्मिक विभाग को उसकी राय के लिए भेजा है।

शिक्षकों के लिए बीटीसी होनी जरूरी

-यूपी सरकार ने साल 2013 में उर्दू शिक्षकों के 4280 पदों पर भर्ती की थी।

-पिछले वर्ष सर्व शिक्षा अभियान के तहत साल 2011-12 में सप्लीमेंट्री प्लान के तहत स्वीकृत 9974 प्राथमिक स्कूलों में सृजित किए गए शिक्षकों के 19948 नए पदों में से 3500 पदों को सहायक अध्यापक (उर्दू भाषा) में बदला गया था।

-शिक्षकों के सामान्य पदों पर भर्ती के लिए अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) उत्तीर्ण बीटीसी/विशिष्ट बीटीसी अभ्यर्थी अहम होंगे।

ये भी पढ़ें... CBSE ने आश्रम पद्धति स्कूलों को दी मान्यता, अगले साल से शुरू होगी पढ़ाई

-वहीं उर्दू शिक्षकों की नियुक्ति के लिए उर्दू बीटीसी योग्यता धारी या 11 अगस्त 1997 से पहले के मोअल्लिम-ए-उर्दू उपाधिधारकों और अलीगढ़ मुस्लिम यनिवर्सिटी से डिप्लोमा इन टीचिंग उत्तीर्ण करने वाले उन अभ्यर्थियों की नियुक्ति होगी, जो भाषा शिक्षकों के लिए आयोजित अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) उत्तीर्ण कर चुके होंगे।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story