×

UPSEE की काउंसिलिंग 1 जून से, इंजीनियरिंग कॉलेजों में घटेंगी 16000 सीटें

इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों में एडमिशन के लिए आयोजित हुई यूपी राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) की प्रवेश काउंसिलिंग एक जून से 21 जुलाई तक चलेगी। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (AKTU) में सेंट्रल एडमिशन कमेटी (CAC) कोटे से एडमिशन लेने वाले कैंडिडेट्स की न्यूनतम क्वालिफिकेशन भी तय होगी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 4 May 2017 10:56 AM GMT

UPSEE की काउंसिलिंग 1 जून से, इंजीनियरिंग कॉलेजों में घटेंगी 16000 सीटें
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों में एडमिशन के लिए यूपी राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) की प्रवेश काउंसिलिंग एक जून से 21 जुलाई तक चलेगी। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (AKTU) में सेंट्रल एडमिशन कमेटी (CAC) कोटे से एडमिशन लेने वाले कैंडिडेट्स की न्यूनतम क्वालिफिकेशन भी तय होगी।

यूपी सरकार ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाली ऑनलाइन परीक्षा सैट से इन उम्मीदवारों को छूट दे दी है। ऐसे में क्वालिटी को बनाए रखने के लिए न्यूनतम क्वालिफिकेशन सामान्य और ओबीसी कैंडिडेट्स के लिए 50 पर्सेंट मार्क्स और एससी-एसटी कैंडिडेट्स के लिए 45 फिसदी अंक निर्धारित करने के प्रस्ताव पर निर्णय लिया जाएगा।

क्या कहा एसईई के स्टेट कोआर्डिनेटर का?

एसईई के स्टेट कोआर्डिनेटर प्रो. कुलदीप सहाय ने कहा कि कैब की बैठक में इंजीनियरिंग कॉलेजों में मैनेजमेंट कोटे की सीटों पर किस तरह एडमिशन लिए जाएं इस पर भी अंतिम मुहर लगाई जाएगी।

बैठक अब 6 मई को

एकेटीयू की संबद्धता कमेटी की बैठक में इस पर अंतिम मुहर लगाई जाएगी। 18 इंजीनियरिंग कॉलेज पहले ही बंद होने का प्रस्ताव भेज चुके हैं। फिलहाल सीट घटाने, कोर्स बंद करने और कॉलेज बंद करने के प्रस्तावों की लिस्ट तैयार की जा रही है। इस कार्य में समय लगने के कारण संबद्धता कमेटी की बैठक अब गुरुवार को नहीं होगी। अब यह 6 मई को आयोजित की जाएगी।

कॉलेजों में घटेंगी करीब 16 हजार सीटें

यूपी में इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों में नए शैक्षिक सत्र 2017-18 से करीब 16 हजार सीटें कम हो जाएंगी। 96 इंजीनियरिंग कॉलेजों ने अपने बीटेक, एमबीए, एमसीए आदि कोर्सेज में सीटें घटाने के लिए प्रस्ताव भेजा है।

एकेटीयू से संबद्ध करीब 650 से ज्यादा इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों मे से 96 इंजीनियरिंग कॉलेजों ने अपने यहां कोई न कोई कोर्स बंद करने या फिर सीटें घटाने का प्रस्ताव भेजा है। ऐसे में एकेटीयू से संबद्ध इंजीनियरिंग कॉलेजों में मौजूदा समय में कुल 1,73,779 सीटों में से करीब 16,000 और कम हो जाएंगी। ऐसे में अब नए शैक्षिक सत्र में करीब 1,57000 सीटें रह जाएंगी।

बीफार्मा कोर्स में दिलचस्पी

फिलहाल संबद्धता कमेटी के सामने कुछ कॉलेज सीटें बढ़ाने का भी प्रस्ताव रखेंगे। खासकर बीफार्मा कोर्स को लेकर कॉलेज दिलचस्पी दिखा रहे हैं। ऐसे में 500 से लेकर एक हजार तक सीटें बढ़ सकती हैं। फिलहाल इन सभी प्रस्तावों पर अंतिम मुहर छह मई को संबद्धता कमेटी की बैठक में लगेगी।

इस साल भी घटेंगी सीटें

पिछले शैक्षिक सत्र में कुल 22,648 सीटें घटा दी गई थी। पिछले वर्ष कुल सीटें 1,96,427 थी और इसमें से 22,648 सीटें घटाकर 1,73,779 सीटें निर्धारित की गईं थी। अब इस साल भी सीटें घटेंगी।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story