Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

फ्लाॅयड के समर्थन में उतरे इन स्टार्स को अभय देओल ने सुनाई खरी खोटी

अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पूरे अमेरिका में हंगामा मचा है। कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन भी हुए हैं जिसके चलते कर्फ्यू लगाने की स्थिति भी आ गई है। भारत में भी कई सोशल मीडिया यूजर्स के साथ स्टार सेलेब्स ने भी इस मामले में अपने विचार दिए है।

suman

sumanBy suman

Published on 3 Jun 2020 3:59 PM GMT

फ्लाॅयड के समर्थन में उतरे इन स्टार्स को अभय देओल ने सुनाई खरी खोटी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई : अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पूरे अमेरिका में हंगामा मचा है। कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन भी हुए हैं जिसके चलते कर्फ्यू लगाने की स्थिति भी आ गई है। भारत में भी कई सोशल मीडिया यूजर्स के साथ स्टार सेलेब्स ने भी इस मामले में अपने विचार दिए है।

यह पढ़ें....वाजिद खान का वीडियो: ‘मेरे नाम में तू हमेशा रहेगा’, ये देख नहीं रोक पायेंगे आंसू

बॉलीवुड के कई स्टार्स ने कहा- ब्लैक लाइव्स मैटर यानि 'अश्वेत लोगों की जिंदगी भी रखती है' जैसे हैशटैग का उपयोग करते हुए अश्वेतों के आंदोलन को समर्थन दिया है। हालांकि कुछ एक्टर्स ऐसे भी हैं जो इन सुपरस्टार सेलेब्स की हिप्पोक्रेसी पर सवाल उठा रहे हैं और इन सेलेब्स ने कहा कि अमेरिका से पहले इन लोगों को अपने देश में हो रहे अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना चाहिए। अब इस मामले पर एक्टर अभय देओल ने बयान दिया है।

अभय ने एक पोस्ट शे की जिसमें लिखा था - अभय देओल के अनुसार कथित तौर पर भारत में भी इसी तरह के अन्याय होते है और उन्हें अनदेखा करते हैं। इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट में अभय ने लिखा, 'प्रवासी जीवन मायने रखता है, गरीब जीवन मायने रखता है, अल्पसंख्यक जीवन मायने रखता है।'

यह पढ़ें...यूपी में कोरोना के 3,383 सक्रिय मामले, अब तक 5,257 मरीज इलाज से हुए ठीक

उन्होंने आगे कहा कि अमेरिका ने हिंसा को पूरी दुनिया में एक्सपोर्ट किया है। ऐसे में उनके कर्म के चलते अमेरिका को ये दिन देखना ही था। मैं ये नहीं कह रहा कि वे इसे डिजर्व करते हैं। मैं कह रहा हूं कि इसे एक बड़े स्तर पर देखने की कोशिश करिए। अभय देओल के अनुसार कथित तौर पर भारत में भी इसी तरह के अन्याय होते है और उन्हें अनदेखा करते हैं। इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट में अभय ने लिखा, 'प्रवासी जीवन मायने रखता है, गरीब जीवन मायने रखता है, अल्पसंख्यक जीवन मायने रखता है।'

ब्लैक लाइव्स मैटर का मूवमेंट यही है। ये हम और वो की लड़ाई नहीं है। ये किसी एक खास देश की लड़ाई नहीं है।ये पूरी पृथ्वी की लड़ाई है जो इस समय भारी जोखिम में है। ऐसा कोई देश नहीं है जो वास्तविक हो, मात्र यह ग्रह वास्तविक

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

suman

suman

Next Story