भानुप्रिया ने साउथ के साथ ही हिंदी फिल्मों पर भी किया राज, इस वजह से छोड़ा था स्कूल

हिंदी सिनेमा में अभिनेत्री भानुप्रिया को उनकी खूबसूरती और ज़बरदस्त एक्टिंग के लिए याद किया जाता है। वह साउथ फिल्मों की पॉपुलर अभिनेत्रियों में से एक हैं। भानुप्रिया का जन्म 15 जनवरी 1967 आंध्र प्रदेश में हुआ।

Published by Monika Published: January 15, 2021 | 12:14 pm
भानुप्रिया

भानुप्रिया (file pic )

मुंबई: हिंदी सिनेमा में अभिनेत्री भानुप्रिया को उनकी खूबसूरती और ज़बरदस्त एक्टिंग के लिए याद किया जाता है। वह साउथ फिल्मों की पॉपुलर अभिनेत्रियों में से एक हैं। भानुप्रिया का जन्म 15 जनवरी 1967 आंध्र प्रदेश में हुआ। भानुप्रिया अभिनेत्री होने के साथ साथ कुचिपुड़ी नर्तकी भी रही हैं।

17 साल की उम्र से शुरू की एक्टिंग

बता दें, भानुप्रिया ने अपनी एक्टिंग और खूबसूरती के दम पर साउथ ही नहीं बॉलीवुड में भी खूब नाम कमाया । भानुप्रिया ने 17 साल की उम्र में एक्टिंग में कदम रखा था । उनकी पहली फिल्म ‘मेल्ला पेसुन्गल’ है जो 1983 में रिलीज हुई थी । साउथ की फिल्मों में नाम कमाने के बाद 90 के दशक में अभिनेत्री ने बॉलीवुड में कदम रखा। भानुप्रिया का असली नाम मंगा भामा है।

इस कारण छोड़ा स्कूल

भानुप्रिया का कोई फ़िल्मी बैकग्राउंड नहीं था । स्कूल के दिनों में उनके स्कूल में एक दिन भाग्यराजा गुरु आए। वो अपनी फिल्म के लिए एक टीन गर्ल लेना चाहते थे जिसे डांस करना आता हो । उन्होंने भानुप्रिया को सिलेक्ट किया, लेकिन एक फोटोशूट के दौरान उन्हें लगा कि भानु काफी छोटी है, इसलिए उन्हें इस फिल्म से किनारा कर दिया गया। जिसके बाद भानुप्रिया फिर कभी स्कूल नहीं गई।

जब वह फिल्म के लिए सेलेक्ट की गई थी उसे दौरान भानुप्रिया ने स्कूल में बताय दिया था कि वो फिल्मों में रोल कर रही हैं । लेकिन फिल्म हाथ से निकलने के बाद स्कूल जातीं, तो उनका मजाक बनता। इसके बाद उन्होंने फिल्मों में काम ढूंढा और सफलता भी मिली ।

ये भी पढ़ें: जैस्मिन मना रहीं जश्नः बिग बॉस से निकलते ही भारती-पुनीत संग की पार्टी, तस्वीरें वायरल

एक के बाद एक मिली फ़िल्में

फिल्मों में आने के लिए भानुप्रिया को फोटोशूट भी करवाती थीं । उनके फोटोशूट पर जब भारतीराजा गुरु की नजर पड़ी तो उन्होंने तमिल फिल्म ‘Pasiyadu’ में उन्हें मौका दिया। जिसके बाद तो उनके पास फिल्मों की लम्बी लाइन लग गई। फिल्म सितारा बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई। जो नेशनल लेवल पर बेस्ट रीजनल फिल्म के साथ कई अवॉर्ड्स अपने नाम किए।

ये भी पढ़ें: प्रियंका बनेंगी मांः Baby Planning पर उठे सवाल, एक्ट्रेस ने दिया ऐसा रिएक्शन

इन फिल्मों को दर्शकों ने किया पसंद

भानुप्रिया की इन फिल्मों को दर्शों ने खूब पसंद किया जिसमे अभिनेत्री ने 1986 में फिल्म ‘दोस्ती दुश्मनी’ से बॉलीवुड में एंट्री ली। वे अब तक लगभग 150 फिल्मों में काम कर चुकी हैं, जिनमें ‘इंसाफ की पुकार’ (1987), ‘खुदगर्ज़’ (1987), ‘मर मिटेंगे'(1988), ‘तमंचा’ (1988), ‘सूर्या’ (एन अवेकनिंग) (1989), ‘दाव पेंच’ (1989), ‘ग़रीबों का दाता’ (1989), ‘कसम वर्दी की’ (1989), ‘जहरीले’ (1990) और ‘भाभी’ (1991) शामिल हैं। ख़ास बात ये है कि अभिनेत्री ने ज़्यादातर फ़िल्में एक्टर जितेन्द्र के साथ की हैं।

ये भी पढ़ें : फिल्मों में नहीं चला अभिनय का जादू, रियल लाइफ हीरो हैं नील नितिन मुकेश

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App