Top

ड्रग्स केस: इस वजह से अर्जुन रामपाल की बढ़ीं मुश्किलें, कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार

ड्रग्स मामले में जब अर्जुन रामपाल के बारे में मीडिया ने जब डॉक्टर से पूछा, तो उन्होंने कहा, “मैटर अभी सबजुडिस है, इसलिए उससे जुड़ी डिटेल मैं आप से शेयर नहीं कर सकता। लेकिन जो भी जरूरी बातें हैं, मैंने एनसीबी को बता दी है।"

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 21 Dec 2020 11:10 AM GMT

ड्रग्स केस: इस वजह से अर्जुन रामपाल की बढ़ीं मुश्किलें, कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार
X
ड्रग्स केस: इस वजह से अर्जुन रामपाल की बढ़ीं मुश्किलें, कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुबंई: एनसीबी ड्रग्स मामले में बॉलीवुड एक्टर अर्जुन रामपाल से लगातार पूछताछ कर रही है। आज यानी 21 दिसंबर को अर्जुन रामपाल एक बार फिर से एनसीबी के सामने पेश हुए है। इक तरफ जहां अर्जुन से एनसीबी लगातार पूछताछ कर रही है, तो वहीं, इस मामले में एनसीबी ने दिल्ली के एक डॉक्टर का बयान लिया है। माना जा रहा है कि डॉक्टर के इस बयान से अर्जुन रामपाल की गिफ्तारी होना तय है। बता दें कि डॉक्टर के बयान को एनसीबी ने अदालत में मजिस्ट्रेट के सामने पेश भी किया है।

मैटर अभी सबजुडिस है- डॉक्टर

ड्रग्स मामले में जब अर्जुन रामपाल के बारे में मीडिया ने जब डॉक्टर से पूछा, तो उन्होंने कहा, “मैटर अभी सबजुडिस है, इसलिए उससे जुड़ी डिटेल मैं आप से शेयर नहीं कर सकता। लेकिन जो भी जरूरी बातें हैं, मैंने एनसीबी को बता दी है और मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दे दिया है। मैं एनसीबी को सहयोग करूंगे।"

ये भी पढ़ें :कॉमेडी और डांसिंग के सफल स्टार गोविंदा, जानिए उनके बारे में दिलचस्प बातें

NCB को गुमराह करने की अर्जुन ने की थी कोशिश

वहीं, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, एनसीबी ने मुंबई के एक और डॉक्टर का बयान लिया है। ड्रग्स मामले की जांच के दौरान अर्जुन रामपाल के एक करीबी ने दिल्ली एक डॉक्टर को गुमराह करने की कोशिश की और डॉक्टर से बैक डेट में प्रिस्क्रिप्शन लिये, ताकि एनसीबी की जांच पड़ताल को गुमराह किया जा सके।

ARJUN RAMPAL

दवा के प्रिस्क्रिप्शन पर हुआ था NCB को संदेह

इस मामले से पर्दा उठने के बाद सूत्रों ने बताया कि अर्जुन रामपाल के करीबी ने जिस दवा का प्रिस्क्रिप्शन लिखवाया था, उस प्रिस्क्रिप्शन को अर्जुन रामपाल ने एनसीबी के सामने पेश किया था। एसनीबी को दिए गए प्रिस्किप्शन पर संदेह हुआ, जिसके बाद एनसीबी ने डॉक्टर से पूछताछ की और उनका बयान दर्ज किया गया।

ये भी पढ़ें :अमिताभ की मां- जानी-मानी सिंगर व थिएटर आर्टिस्ट, याद कर भावुक हुए बिग बी

अर्जुन के घर से मिली थी ट्रैमाडॉल टैब्लेट्स

आपको बताते चलें कि एनसीबी ने 9 नवंबर को अर्जुन रामपाल के घर छापेमारी की थी, जिसमें एनसीबी को उनके घर से ट्रैमाडॉल टैब्लेट्स मिली थी। टैब्लेट्स मिलने के बाद एनसीबी अर्जुन रामपाल से लगातार पूछताछ करने के लिए अपने ऑफिस बुला रही है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story