Top

Birthday Special: एक्टर बनना चाहते थे राजकुमार हिरानी, जानें उनसे जुड़ी खास बातें

हिरानी का असली सफर 2003 में शुरु हुआ। संजय दत्त की फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस राजकुमार हिरानी के लिए टर्निंग प्वाइंट साबित हुई। राजकुमार हिरानी ने बतौर निर्देशक इस फिल्म से अपना डेब्यू किया था। यह फिल्म देश के साथ-साथ विदेशों में भी खूब चली।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 20 Nov 2020 4:13 AM GMT

Birthday Special: एक्टर बनना चाहते थे राजकुमार हिरानी, जानें उनसे जुड़ी खास बातें
X
Birthday Special: एक्टर बनना चाहते थे राजकुमार हिरानी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: 20 नवंबर साल 1962 को नागपुर में पैदा हुए हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के कामयाब निर्देशक राजकुमार हिरानी आज 58 साल के हो गए हैं। राजकुमार हिरानी हिंदी सिनेमा के उन सफलतम निर्देशकों में शुमार हैं जिनकी लगभग सारी फिल्में सुपरहिट रही हैं। चाहे Munna Bhai MBBS, 3 idiot हो या फिर 'pk' या संजय दत्त की बायोग्राफी संजू, उनकी सभी फिल्में बॉलीवुड में अपना कीर्तिमान बनाए रखती हैं। तो चलिए आज उनके जन्मदिन के अवसर पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ खास बातें....

ये भी पढ़ें: चार दिन तक इन राज्यों में होगी भारी बारिश और बर्फबारी! पड़ेगी हाड़ कंपाने वाली ठंड

फैमिली चाहती थी चार्टर्ड अकाउंटेंट बने हिरानी

निर्देशक राजकुमार हिरानी की फैमिली चाहती थी कि वे एक चार्टर्ड अकाउंटेंट बनें, लेकिन उनका इंटरेस्ट शुरू से ही थिएटर और फिल्मों की तरफ था। राजकुमार हीरानी अपने पिता के व्यवसाय में उनकी मदद जरूर किया करते थे, लेकिन वह शुरू से ही अभिनय की दुनिया में कदम रखना चाह रहे थे।

एक्टर बनना चाहते थे राजकुमार

फिल्म डायरेक्टर राजकुमार हिरानी भी हर युवा की तरह मुंबई आकर फ़िल्मों में एक्टिंग करना चाहते थे। एक्टर बनने के लिए अपने बेटे के उत्साह को देखने के बाद, उनके माता-पिता ने राजकुमार के सपने को पूरा करने के लिए हर तरह का संभव प्रयास किया, जिसके लिए उन्होंने हिरानी को मुंबई के एक फेमस एक्टिंग स्कूल में भेज दिया। हालांकि, वह स्कूल के माहौल में पूरी तरह से ढल नहीं पाए और कुछ दिनों बाद वापस अपने घर आ गए।

Photo- Social Media

फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट में लिया एडमिशन

राजकुमार ने फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे में निर्देशक पाठ्यक्रम के लिए अप्लाई किया था, लेकिन चयन की संभावना कम थी। इसलिए उन्होंने संपादन के पाठ्यक्रम में एडमिशन ले लिया। कोर्स ख़तम होने के बाद, हिरानी ने फिल्म संपादक बनने के लिए कई सालों तक मुंबई में संघर्ष किया।

ये भी पढ़ें: इस दिन रिलीज होगी आदिपुरुष, पहली बार होगा ऐसा, इसलिए खास है फिल्म

विधु विनोद चोपड़ा से सीखी निर्देशन

राजकुमार हिरानी ने अपने शुरुआती दिनों में विधु विनोद चोपड़ा के फिल्म '1942 ए लव स्टोरी’, और 1998 में ‘करीब’ के प्रोमो के लिए काम किया। इसके बाद 2000 में ‘मिशन कश्मीर’ और 2001 में ‘तेरे लिए’ के लिए एडिटिंग की।

Munna Bhai MBBS से शानदार शुरुआत

हिरानी का असली सफर 2003 में शुरु हुआ। संजय दत्त की फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस राजकुमार हिरानी के लिए टर्निंग प्वाइंट साबित हुई। राजकुमार हिरानी ने बतौर निर्देशक इस फिल्म से अपना डेब्यू किया था। यह फिल्म देश के साथ-साथ विदेशों में भी खूब चली। वो अपनी पहली ही फिल्म से छा गए। उनकी इस फिल्म को कई अवार्ड मिले थे।

Photo- Social Media

जानकारी के मुताबिक, फिलहाल राजकुमार हिरानी तीन परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं, जिनमें से एक भारतीय टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में पहली बार शतक जमाने वाले बल्लेबाज लाला अमरनाथ की बायोपिक है, दूसरी एक सोशल कॉमेडी है और तीसरी क्रिकेट पर ही आधारित एक काल्पनिक कहानी है। हालांकि कोई नहीं जानता कि वे सबसे पहले इनमें से किस कहानी पर काम करेंगे। इसके बारे में जानकारी अभी उन्होंने गुप्त रखी है।

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमला: UP में सियासत, CM योगी पर लल्लू का पलटवार

Newstrack

Newstrack

Next Story