Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

कान उत्सव में भारत को और रचनात्मक मौजूदगी दर्ज कराने की जरूरत : प्रसून जोशी

उत्सव में ‘इंडिया पेवेलियन’ को संबोधित करते हुए जोशी ने कहा, ‘‘ व्यावसायिक प्रयासों की निश्चित रूप से आवश्यकता है, नेटवर्किंग भी जरूरी है लेकिन रचनात्मक रूप से उत्सव में हिस्सा लेने से बेहतर कुछ नहीं है।’’

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 16 May 2019 11:28 AM GMT

कान उत्सव में भारत को और रचनात्मक मौजूदगी दर्ज कराने की जरूरत : प्रसून जोशी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कान: गीतकार एवं केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के प्रमुख प्रसून जोशी का कहना है कि भारत को कान फिल्म उत्सव के अपनी रचनात्मक मौजूदगी दर्ज कराने की आवश्यकता है।

ये भी देंखे:दो बाईक की टक्कर के बाद ग्रामिणों ने बाईक सवार को पीटकर मार डाला

उत्सव में ‘इंडिया पेवेलियन’ को संबोधित करते हुए जोशी ने कहा, ‘‘ व्यावसायिक प्रयासों की निश्चित रूप से आवश्यकता है, नेटवर्किंग भी जरूरी है लेकिन रचनात्मक रूप से उत्सव में हिस्सा लेने से बेहतर कुछ नहीं है।’’

उन्होंने कहा कि यह पेवेलियन कान फिल्म उत्सव में हिस्सा ले रहे भारतीय फिल्म जगत के लोगों के लिए घर से दूर एक घर है।

ये भी देंखे:भाजपा सत्ता में आने पर राजद्रोह कानून को और सख्त बनाएगी: राजनाथ

जोशी ने कहा, ‘‘यहां पहुंच सबसे पहले मैंने एक मसाला चाय मंगवायी ।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मेरी सलाह है कि हर किसी को यह (चाय) पीनी चाहिए । यह भारतीय पेवेलियन की भावना को समग्र रूप में पेश करता है।’’

(भाषा)

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story