Top

सलमान खान की बढ़ी मुश्किलें, जोधपुर हाईकोर्ट ने इस याचिका को सुनने से किया इंकार

बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान पर कांकाणी हिरण का शिकार मामले की सुनवाई कई साल से चल रही है। जिसकी सुनवाई जोधपुर के अदालत में चल रही है। इस केस की सुनवाई को लेकर सलमान खान के वकील ने जोधपुर अदालत से ट्रांसफर याचिका दायर किया है जिसकी सुनवाई आज यानि गुरुवार को हुई हैं इस याचिका की सुनवाई हाईकोर्ट जस्टिस विजय विश्नोई के नेतृत्व में हुई। आगे क्या हुआ पढ़ें पूरी खबरः

Shweta Pandey

Shweta PandeyBy Shweta Pandey

Published on 4 March 2021 8:43 AM GMT

सलमान खान की बढ़ी मुश्किलें, जोधपुर हाईकोर्ट ने इस याचिका को सुनने से किया इंकार
X
सलमान खान की बढ़ी मुश्किलें
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्लीः बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान पर कांकाणी हिरण का शिकार मामले की सुनवाई कई साल से चल रही है। जिसकी सुनवाई जोधपुर के अदालत में चल रही है। इस केस की सुनवाई को लेकर सलमान खान के वकील ने जोधपुर अदालत से ट्रांसफर याचिका दायर किया है जिसकी सुनवाई आज यानि गुरुवार को हुई हैं इस याचिका की सुनवाई हाईकोर्ट जस्टिस विजय विश्नोई के नेतृत्व में हुई। आगे क्या हुआ पढ़ें पूरी खबरः

ये है पूरा मामलाः

सलमान ने काला हिरण शिकार तथा आर्म्स एक्ट मामले में जिला एवं सत्र अदालत (जोधपुर) में चल रही सुनवाई को सीधे उच्च न्यायालय में स्थानांतरित करवाने को लेकर अपने अधिवक्ता हस्तीमल सारस्वत के जरिये हाईकोर्ट में ट्रांसफर याचिका पेश कर रखी है जहां पर इस याचिका की सुनवाई हाईकोर्ट जस्टिस विजय विश्नोई के नेतृत्व में किया गया। लेकिन जस्टिस विजय विश्नोई के याचिका को सुनने से इनकार करते हुए उसे अन्य बेंच में रेफर कर दिया है।

ये भी पढ़ेंःअनुराग-रघुनाथ कनेक्शन: IT रेड से पहले BKS नेता से क्यों मिलें कश्यप, देखें तस्वीरें

आखिर कौन-कौन था शामिलः

आप को बता दें कि पांच साल पहले सलमान खान के साथ-साथ अभिनेता सैफ अली खान, अभिनेत्री नीलम, तब्बू, सोनाली बेंद्रे और दुष्यंत सिंह को कांकाणी हिरण का शिकार करने के मामले में कोर्ट ने आरोपी ठहराया था। सलमान खान को छोड़ कर सभी निर्दोष साबित हुए। जिस कारण इन लोगों को बरी कर दिया गया। सलमान खान को दोषी पाते हुए कोर्ट ने 5 साल की सजा सुनाई थी। राज्य सरकार की ओर से सीजेएम कोर्ट के इस फैसले को राजस्थान उच्च न्यायालय में चुनौती दी गई थी। सलमान के अधिवक्ता हस्तीमल सारस्वत ने कोर्ट में याचिका पेश कर यह मांग की है कि सभी मामले एक ही प्रवृत्ति के हैं, इसलिए इन सबकी सुनवाई एक साथ की जाए।

जिला एवं सत्र अदालत में अपील है मामले

ये भी पढ़ेंःताजमहल में नहीं मिला बम, धमकी देने वाला युवक अरेस्ट, पूछताछ में उगला बड़ा राज

सलमान खान को सीजेएम (ग्रामीण) कोर्ट की ओर से सुनाई गई 5 साल की सजा के खिलाफ उन्होंने जिला एवं सत्र अदालत में अपील की है। वहीं, सीजेएम की कोर्ट ने आर्म्स एक्ट मामले में सलमान खान को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था। इस फैसले को को भी सत्र अदालत में ही चुनौती दी गई है. दोनों मामले इसी कोर्ट में लंबित हैं। आप को बता दें कि सलमान खान के खिलाफ यह मामला काफी लंबे समय से चल रहा है। अदालतों में यह मामला अभी कानूनी दाव-पेंच में उलझा हुआ है। फिलहाल अभी इसका कोई फैसला नही आया है।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shweta Pandey

Shweta Pandey

Next Story