×

Ukraine Crisis: यूक्रेन में तेजी से बदल रहे हालात, भारत सरकार ने दूतावास के अधिकारियों से परिवार को वापस भेजने का दिया निर्देश

Ukraine Crisis: रूस औऱ यूक्रेन के बीच जारी तनाव कभी भी युद्ध की शक्त अख्तियार कर सकता है। ऐसे में भारत सरकार ने यूक्रेन की राजधानी कीव स्थित भारतीय दूतावास के अधिकारियों को अपने परिवार को वापस भारत भेजने को कहा है।

Krishna Chaudhary
Written By Krishna ChaudharyPublished By Deepak Kumar
Updated on: 2022-03-01T15:47:07+05:30
Russia Ukraine Crisis
X

Russia Ukraine Crisis। (Social Media) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Ukraine Crisis: सेकंड वर्ल्ड वॉर (second world war) के बाद यूरोप अब एक और गंभीर संकट की ओऱ बढ़ रहा है। रूस औऱ यूक्रेन के बीच जारी तनाव कभी भी युद्ध की शक्त अख्तियार कर सकता है। ऐसे में भारत सरकार वहां रह रहे अपने नागरिकों और दूतावास को लेकर फिक्रमंद है। सरकार ने यूक्रेन की राजधानी कीव (Ukraine capital Kiev) स्थित भारतीय दूतावास (indian embassy) के अधिकारियों को अपने परिवार को वापस भारत भेजने को कहा है। ये जानकारी मीडिया के सूत्रों के हवाले से मिली है।

भारतीय दूतावास ने जारी की थी एडवायजरी

इससे पहले कीव स्थित भारतीय दूतावास ने वहां रह रहे भारतीय छात्रों औऱ नागरिकों के लिए एक एडवायजरी जारी किया था। जिसमे कहा गया कि यूक्रेन में जारी तनाव को देखते हुए, सभी भारतीय नागरिक जिनका प्रवास आवश्यक नहीं समझा जाता है और सभी भारतीय छात्रों को अस्थायी रूप से यूक्रेन छोड़ने की सलाह दी जाती है।

एडवाइजरी में छात्रों को सलाह देते हुए कहा गया है कि वे चार्टर उड़ानों के अपडेट के लिए संबंधित छात्र ठेकेदारों से भी संपर्क स्थापित करें। इसके अलावा छात्रों को कीव स्थित भारतीय दूतावास के ट्वीटर और फेसबुक समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर नियमित रूप से अपडेट देखने की सलाह भी दी गई है।

संकट का राजनयिक हल निकालने की कोशिश

रूस – यूक्रेन (Russia - Ukraine Crisis) के बीच गहराते संकट को देखते हुए यूरोप के अन्य ताकतवर देश भी चिंतित हैं। यूरोप के ऊपर मंडरा रहे यूध्द के काले बादल को छांटने के लिए फ्रांस और जर्मनी समेत अन्य देश लगातार कोशिशे कर रहे हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैन्युएल मैंकों इसी सिलसिले में राष्ट्रपित ब्लादिमीर पुतिन से मिलने मास्को गए। जहां दोनों देशों के नेताओं के बीच बतचीत हुई। बताया जा रहा है बातचीत सकारात्मक रही। पुतिन पहली बार इस मसले का हल राजनयिक तरीके से करने पर सहमत हुए।

वहीं दूसरी तरफ अमेरिका समेत पश्चिम के अन्य देश रूस को यूध्द शुरू करने पर गंभीर परिणाम भूगतने की चेतावनी दे रहे हैं। अमेरिका और ब्रिटेन कह चुके हैं कि रूस कभी भी यूक्रेन पर हमला बोल सकता है। जबकि रूस यूध्द के किसी भी आशंका को खारिज कर अमेरिका पर तनाव बढ़ाने का आरोप लगा रहा है।

देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story