भारत में बैन के बाद TikTok ने चीन पर निकाली भड़ास, ड्रैगन को देगी तगड़ा झटका

भारत में चीनी ऐप के बंद होने के बाद  चीनी कंपनियों में चीन की सरकार से नाराजगी साफ दिख रही है। बता दें कि सरकार टिकटॉक समेत  59 चीनी ऐप बैन कर दिया है। भारत में टिकटॉक के बैन होने नाराज कंपनी ने बीजिंग से खुद को दूर कर लिया है। ये जानकारी एक न्यूज एजेंसी के हवाले से मिली है।

नई दिल्ली:   भारत में चीनी ऐप के बंद होने के बाद  चीनी कंपनियों में चीन की सरकार से नाराजगी साफ दिख रही है। बता दें कि सरकार टिकटॉक समेत  59 चीनी ऐप बैन कर दिया है। भारत में टिकटॉक के बैन होने नाराज कंपनी ने बीजिंग से खुद को दूर कर लिया है। ये जानकारी एक न्यूज एजेंसी के हवाले से मिली है।

यह पढ़ें….कानपुर मुठभेड़ पर चिदंबरम का सवाल, रात को अपराधी के गढ़ में क्या करने गई पुलिस

टिकटॉक के चीफ एग्जीक्यूटिव ने लिखा था भारत को लेटर

28 जून को भारत सरकार को लिखे गए एक लेटर में टिकटॉक के चीफ एग्जीक्यूटिव (Kevin Mayer) ने कहा कि चीनी सरकार ने कभी भी यूजर डेटा की मांग नहीं की है और अगर कभी डेटा मांगा भी जाएगा तो कंपनी ऐसी कोई जानकारी नहीं देगी। इस लेटर को न्यूज एंजसी ने शुक्रवार को देखा ।

चीनी कंपनी बाइट डांस ( ByteDance) के शॉर्ट फॉर्म वीडियो ऐप टिकटॉक चीन में उपलब्ध नहीं है। कंपनी ग्लोबल ऑडियंस को अपील करने के लिए चीनी रूट्स से दूर जाना चाहती है। भारत-चीन के साथ सीमा विवाद के बाद टिकटॉक के अलावा यूसी ब्राउजर, वीचैट, अलीबाबा  समेत कुल 59 ऐप बैन हो गए।

 

 

टिकटॉक ने किया कंफर्म

टिकटॉक के चीफ एग्जीक्यूटिव ने सरकार को लिखे लेटर में कहा, वे ये कंफर्म करता हैं कि चीनी सरकार ने हमसे भारतीय यूजर्स के टिकटॉक डेटा की कभी डिमांड नहीं की। उन्होंने आगे लिखा कि इंडियन यूजर्स का डेटा सिंगापुर में सर्वर में स्टोर होता है। अगर हमसे भविष्य में भी ऐसी कोई मांग की गई तो हम उसे पूरा नहीं करेंगे।

 

यह पढ़ें….कोरोना से जंग: WHO ने की भारत की तारीफ, कह दी इतनी बड़ी बात

 कानूनी रूप से भी जीतना मुश्किल

कंपनी ने ये लेटर अगले हफ्ते सरकार और कंपनी के बीच होने वाली मीटिंग से पहले भेजी थी वहीं, न्यूज एजेंसी को एक सरकारी सूत्र के हवाले से ये जानकारी मिली है कि ये बैन जल्द खत्म होने वाला नहीं है। इसे कानूनी रूप से भी जीतना मुश्किल है क्योंकि भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए ऐप्स को बैन किया है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @news.trackmedia पर क्लिक करें।