Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

नंगे पांव चलना आँखों के साथ सेहत के लिए फायदेमंद

seema

seemaBy seema

Published on 3 Aug 2018 11:05 AM GMT

नंगे पांव चलना आँखों के साथ सेहत के लिए फायदेमंद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : सुबह सवेरे हरी घास में नंगे पैर टहलने से आंखों को फायदा मिलने की बात तो हमने अक्सर सुनी है, लेकिन आपको यह जानकर और भी हैरत होगी कि साफ -सुथरी जमीन पर बिना जूते-चप्पल पहने चलने के भी अनेक फायदे हैं। हाल ही में कुछ वैज्ञानिक अध्ययन में यह भी सामने आया है कि खुली जमीन पर नंगे पैर चलने से हमारे शरीर की कई क्रियाओं पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इससे इंसान शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रह सकता है। विज्ञान के एक्सपर्ट ने इसे 'अर्थिंग' के सिद्धांत का नाम दिया है।

जानकारों के अनुसार यह सिद्धांत वैसे ही काम करता है, जैसे टेलीविजन केबल कम्पनियां अपने इलेक्ट्रिकल सिग्नल्स को स्थिर (स्टैबलाइज) रखने के लिए जमीन की 'अर्थिंग' का इस्तेमाल करते हैं। शरीर-विज्ञानियों के मुताबिक हमारे शरीर की प्रकृति 'बायो-इलेक्ट्रिकल' है। यानी हमारे शरीर में मौजूद सभी कोशिकाएं एवं तंत्रिका तंत्र एक प्रकार से भीतरी विद्युत शक्ति या ऊर्जा के स्पंदन से संचालित होते हैं। हमारा ग्रह यानी धरती अपने आप में ऊर्जा का असीम भंडार है। धरती में मौजूद विभिन्न प्रकार के अवयव एवं इलेक्ट्रोन मिलकर चुम्बकीय प्रभाव वाली ऊर्जा एवं शक्तिशाली विकीरणों का निर्माण करते हैं। धरती का ऊर्जा चक्र हमारे शरीर के विद्युत तंत्र पर भी अनुकूल-प्रतिकूल प्रभाव डालता है।

ऑक्सीजन लेवल बढ़ता है

नंगे पैर चलने का बड़ा फायदा तो यह है कि इससे पैरों को भरपूर ऑक्सीजन मिलती है। रक्त संचार बेहतर होता है और शरीर की थकान कम हो जाती है। इसके अलावा शरीर की सभी मांसपेशियां सक्रिय हो जाती हैं। पैर का निचला हिस्सा धरती के संपर्क में आता है, जो एक्युप्रेशर की तरह शरीर को फायदा पहुंचाता है। इससे तनाव, जोड़ों में दर्द, अनिद्रा, म्बन्धी समस्याओं पर अनुकूल असर पड़ता है।

seema

seema

सीमा शर्मा लगभग ०६ वर्षों से डिजाइनिंग वर्क कर रही हैं। प्रिटिंग प्रेस में २ वर्ष का अनुभव। 'निष्पक्ष प्रतिदिनÓ हिन्दी दैनिक में दो साल पेज मेकिंग का कार्य किया। श्रीटाइम्स में साप्ताहिक मैगजीन में डिजाइन के पद पर दो साल तक कार्य किया। इसके अलावा जॉब वर्क का अनुभव है।

Next Story