Top

Corona Vaccination के बाद युवाओं में गंभीर बीमारियों की शिकायत, बढ़ी चिंता

Corona Vaccination: वैक्सीनेशन के बीच युवाओं में दिल से जुड़ी बीमारियां देखी जा रही हैं, जो कि अपेक्षा से अधिक है।

Network

NetworkNewstrack NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 23 Jun 2021 7:18 AM GMT

Corona Vaccination के बाद युवाओं में गंभीर बीमारियों की शिकायत, बढ़ी चिंता
X

वैक्सीनेशन करवाती युवती (कॉन्सेप्ट फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Corona Vaccination: कोरोना वायरस की तीसरी लहर (Corona Virus Third Wave) के दस्तक से पहले सभी देश तेजी से अपने नागरिकों का वैक्सीनेशन कराने में जुटे हुए हैं। पूरी दुनिया में युद्धस्तर पर वैक्सीनेशन अभियान (Vaccination Campaign) तेजी से जारी है। कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) को सबसे बड़ा हथियार माना जा रहा है। ऐसे में देश में सभी को वैक्सीन की डोज लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इस बीच वैक्सीनेशन के बाद कुछ गंभीर लक्षण देखने गए हैं।

वैक्सीनेशन के बाद कुछ साइड इफेक्ट तो दिखना सामान्य बात है, लेकिन CDC को युवाओं में कुछ और भी लक्षण दिखे हैं। कई युवाओं में वैक्सीन की डोज लेने के बाद दिल में सूजन और जलन की शिकायत पाई गई है। इसका खुलासा अमेरिका की सीडीएस की रिपोर्ट में किया गया है। व्हाइट हाउस में टीम ब्रीफिंग के दौरान CDC की निदेशक रोशेल वालेंस्की ने बताया कि उन्हें कोरोना टीकाकरण के बाद 300 से अधिक युवाओं में हार्ट इन्फ्लेमेशन की शिकायत मिली है।

(कॉन्सेप्ट फोटो साभार- सोशल मीडिया)

युवा वर्ग के हिसाब से ये मामले अपेक्षा से ज्यादा

हालांकि बताया जा रहा है कि टीकाकरण की तुलना में इस तरह के मामले कम हैं, लेकिन युवा वर्ग के हिसाब से ये मामले अपेक्षा से ज्यादा हैं। इस तरह के लक्षण सामने आने के बाद अब एडवाइजरी कमेटी ने तय किया है कि जल्द ही वैक्सीन और हार्ट इन्फ्लेमेशन के बीच संबंध पर चर्चा करेगी। उम्मीद जताई जा रही है कि चर्चा में कई अहम जानकारियां मिल सकती हैं। साथ ही इससे सुरक्षा के प्रयास और मजबूत करने में कामयाबी मिलेगी।

वैक्सीनेशन (कॉन्सेप्ट फोटो साभार- सोशल मीडिया)

दूसरी डोज के बाद हो रही समस्याएं

इसके अलावा कमेटी ने वैक्सीन के बाद मायोकार्डिटिस (दिल के कमजोर होने) के बढ़ते केसेस को लेकर भी चिंता जताई है। दरअसल, CDC की ओर से मई के अंत से कोरोना टीकाकरण के बाद मायोकार्डिटिस के ममले पर निगरानी करना शुरू किया गया था। बताया जा रहा है कि पुरुषों में महिलाओं की तुलना में ये समस्या ज्यादा देखी गई है। फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन की सेकेंड डोज लेने के बाद इस तरह के मामले ज्यादा देखे जा रहे हैं।

ज्यादा गंभीर नहीं हो रहे मामले

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब CDC ने डॉक्टर्स से वैक्सीन के बाद दिल से जुड़ी बीमारियों, मायोकार्डिटिस या पेरिकार्डिटिस से जूझ रहे लोगों की रिपोर्ट मांगी है। बता दें कि मायोकार्डिटिस और पेरिकार्डिटिस के लक्षणों में बुखार, सांस में तकलीफ, सीने में दर्द और थकान होना शामिल हैं। वहीं, CDC की निदेशक रोशेल वालेंस्की ने बताया है कि वैक्सीन की खुराक के बाद इन तरह की समस्याओं से जूझ रहे लोग सही देखभाल और आराम करने के बाद अच्छे से रिकवर हो जा रहे हैं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story