×

corona vaccine new update: क्या करें अगर हो गई है कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज़ मिस? जानें क्या कहते हैं विशेषज्ञ

कोरोनावायरस को लेकर न सिर्फ तरह तरह की बातें हो रही हैं, बल्कि वैक्सीनेशन को लेकर भी लोगों में संशय बरकरार है।

Meghna

MeghnaReport MeghnaRaghvendra Prasad MishraPublished By Raghvendra Prasad Mishra

Published on 13 Sep 2021 12:57 PM GMT

vaccination
X

वैक्सीनेशन की फाइल तस्वीर (फोटो-न्यूजट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Health: क्या आपने कोरोनावायरस (coronavirus) की दूसरी डोज़ भी ले ली है? क्या किसी वजह से वैक्सीन की दूसरी डोज़ को तय तारीख पर नहीं ले पाए हैं? क्या इससे वैक्सीन की क्षमता आपके शरीर में प्रभावित होगी? जानें क्या कहते हैं एम्स नई दिल्ली के डॉ. पीयूष रंजन:

दुनियाभर में फैली कोरोनावायरस (coronavirus) महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। वैक्सीन आने के बावजूद भारत सरकार समय समय पर दिशा निर्देशों के पालन को लेकर एडवाइजरी जारी कर रही है। कोरोनावायरस (coronavirus) की वैक्सीन लेने को लेकर फैले डर और भ्रम को सरकार खत्म करने के लिए कई कदम उठा रही है। ऐसे में ये ज़रूरी है कि इससे जुड़ी मेडिकेशन पर फैली अफवाहों से बचें और सही दवाइयां अपनाएं।

दूसरी डोज़ हो गई है मिस?

एम्स नई दिल्ली के डॉ. पीयूष रंजन ने ऑल इंडिया रेडियो (आकाशवाणी) से बातचीत में 'कोरोना वायरस की अगर किसी की दूसरी डोज में गैप हो गया है तो क्या करें' पर बातचीत की है। उन्होंने बताया, "अगर तय तारीख पर कोरोना वायरस वैक्सीन की दूसरी डोज़ नहीं ले पाए हैं तो उससे 2-4 दिन आगे पीछे भी वैक्सीन लगवा सकते हैं। इसलिए परेशान न हों कि तारीख तो आज की थी और अब कल कैसे लगवाएं। इससे बहुत ज़्यादा अंतर नहीं होगा बल्कि दूसरी डोज़ लगवाना बहुत ज़रूरी है। हां अगर कुछ समस्या हो गई है या कोई मेडिकल इमरजेंसी हो गई है तो डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं कि कब लगवानी है वैक्सीन। वैसे इस की तरह की परिस्थिति बहुत कम आती है।"

खुद करें जांच, तब करें विश्वास

आज के दौर में जहां जानकारियां जल्दी से जल्दी पहुंचने की ज़रूरत है वहीं इस बात पर भी ज़ोर देना होगा की गलत जानकारी ना साझा की जाए। सोशल मीडिया पर आए दिन कई ऐसी खबरें वायरल होती रहती हैं जिसमें कोरोना वायरस और इसकी वैक्सीन को लेकर अलग अलग दावे किए जाते हैं। हमें उनकी प्रामाणिकता की जांच कर ही उनपर विश्वास करना होगा। वैक्सीन से जुड़ी जानकारियों पर खासकर विश्वास करने से पहले किसी विशेषज्ञ की सलाह ज़रूर लें।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story