×

एसिडिटी व गैस से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे

seema

seemaBy seema

Published on 2 Feb 2019 9:43 AM GMT

एसिडिटी व गैस से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे
X
एसिडिटी व गैस से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली। एसिडिटी यानी अम्लपित्त। इस अवस्था में आमाशय में एसिड ज्यादा बनता है। इस वजह से भोजन ठीक से पच नहीं पाता है। भोजन से जो अन्न रस बनता है, वह एसिड में बदल जाता है जिस कारण पाचन संबंधी कई विकार पैदा हो जाते हैं। लंबे समय तक ऐसी स्थिति बने रहने से एसिडिटी नामक रोग हो जाता है। यह बीमारी वातावरण में ह्यूमिडिटी के कारण ज्यादा होती है। इसके अलावा तेज मिर्च-मसाले और खट्टे-चटपटे खाद्य पदार्थों के ज्यादा सेवन से भी एसिड ज्यादा बनने लगता है। चाय, कॉफी, सिगरेट, शराब आदि के ज्यादा सेवन से भी अम्लता बढ़ जाती है।

यह भी पढ़ें : गुस्सैल है आप तो इस कमी को इस तरह कर सकते हैं दूर,ताकि लोग आपके पास

एसिडिटी होने पर पेट, छाती व गले में जलन होती है, खट्टी डकारें आती हैं, डकार के साथ-साथ गले में खट्टा व तीखा पानी भी आ जाता है, कभी-कभी उल्टी भी हो जाती है। इस अवस्था में अपच, कब्ज व दस्त की भी शिकायत होती है। जहां तक पेट में गैस की बात है तो पाचन संबंधी गड़बड़ी से ऐसा होता है। वैसे यह किसी अन्य रोग का लक्षण भी हो सकता है। अनियमित भोजन और नींद से पेट में गैस होती है। तनाव, भय, क्रोध, चिंता में रहने, चाय-कॉफी, धूम्रपान, लंबे समय तक भूखे रहने, मसाला व तैलीय भोजन से भी गैस बनने लगती है। पेट में गैस होने पर खुलकर भूख नहीं लगती। पेट व पीठ में हल्का दर्द होता है, पेट साफ नहीं होता। थकावट व आलस बना रहता है।

इन्हें आजमाएं

एक चम्मच अजवायन में चौथाई चम्मच नींबू का रस मिलाकर चाटें। गैस शीघ्र शांत होगा।

एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए अदरक के रस में थोड़ा सेंधा नमक और भुना हुआ जीरा डालकर सेवन करें। ऊपर से आधा ग्लास छाछ पिएं।

एक गिलास गर्म दूध में 2 चम्मच कैस्टर ऑयल डालकर पिएं।

चोकर सहित आटे की रोटी खाने से एसिडिटी और गैस में फायदा होता है।

एक गिलास गन्ने का रस गरम करके उसमें नींबू रस और थोड़ा सेंधा नमक डालकर दिन में दो 2 बार पिएं।

seema

seema

सीमा शर्मा लगभग ०६ वर्षों से डिजाइनिंग वर्क कर रही हैं। प्रिटिंग प्रेस में २ वर्ष का अनुभव। 'निष्पक्ष प्रतिदिनÓ हिन्दी दैनिक में दो साल पेज मेकिंग का कार्य किया। श्रीटाइम्स में साप्ताहिक मैगजीन में डिजाइन के पद पर दो साल तक कार्य किया। इसके अलावा जॉब वर्क का अनुभव है।

Next Story