×

Pregnancy Mein Kya Karna Chahiye : प्रेगनेंसी में महिलाएं भूलकर भी न करें ये गलतियां

Pregnancy Mein Kya Karna Chahiye : प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को सवधानी बरतने के साथ और भी बहुत सारी चीजें हैं जिन्हें घ्यान में रखना चाहिए।

Pallavi Srivastava

Pallavi SrivastavaWritten By Pallavi Srivastava

Published on 14 Oct 2021 2:10 PM GMT

Pregnant Women
X

गर्भावस्था pic(social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Pregnancy Mein Kya Karna Chahiye : किसी भी महिला के लिए गर्भावस्था का समय बहुत खास होता है। क्योंकि मां बनने का पहला एहसास दूसरा कोई महसूस ही नहीं कर सकता है। हां महिला के साथ साथ पति के और पूरे परिवार को खुशी मिलती है। डॉक्टरों द्वारा प्रेग्नेंसी के दौरान महिला को हर तरह की सावधानी बरतने(Pregnancy Me kya Savdhani Barte) की सलाह दी जाती है।

प्रेग्नेंट महिला के खान-पान से लेकर रहन-सहन हर तरीके से ध्यान रखा जाता है। लेकिन बहुत सी बातें ऐसी हैं, जिसे गर्भवती महिला को स्वंय रखनी चाहिए। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को सवधानी बरतने के साथ और भी बहुत सारी चीजें हैं जिन्हें घ्यान में रखना चाहिए। आइे जानते हैं कि वह कौन सी बातें जो महिलाओं के साथ गर्भ में पल रहे बच्चे पर बुरा असर डाल सकता है।

गर्भावस्था आहार योजना pic(social media)

खान-पान पर दें विशेष ध्यान(Pregnant Women Healthy foods)

ये समय ऐसा है जब होने वाली मां को अपने साथ साथ गर्भ में पल रहे बच्चे पर का भी ख्याल रखना होता है। क्योंकि मां जो भी पोषण युक्त खाद्य पदार्थ खाएगी वहीं बच्चे को भी मिलेगा। इसमिला महिला का इस दौरान अपने खाने पीने का पूरा ध्यान रखनी चाहिए। इस समय महिलाओं को बाहर का खाना खाने नहीं चाहिए और साथ ही फास्ट फूड का भी सेवन न करें। क्योंकि तला-भूना खाने से बच्चे को मोटापा हो सकता है। इसलिए जितना पॉसिबल हो फल, दूध और हरी सब्जियों को ही खाएं।

एक साथ न खाएं ये दवा(Ek Sath Na Khaye Ye Dava)

गर्भावस्था के फर्स्ट ट्राईमेस्टर बीत जाने के बाद यानि चौथा महीना लगने के साथ ही गर्भवती महिला को आयरन और कैल्शियम की दवा खाने के लिए दी जाती हैं। ऐसे में ध्यान रखें कि दोनों दवाओं को एक साथ न खाएं। इनके खाने के बीच में गैप जरूर दें।

डॉक्टरों की सलाह जरूरी pic(social media)

समय-समय पर डॉक्टरी सलाह जरूरी(Doctors Advice)

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में हार्माेनल चेंज होता है। जिसके कारण महिलाओं के सामने कई तरह की दिक्कतें आती हैं। ऐसे में नजरअंदाज न करके डॉक्टर से संपर्क करें। और अगर महिला को सिर दर्द, साफ न दिखना, पेट में सूजन, पेशाब में जलन जैसी समस्या हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

सही डाइट लें(Healthy Diet)

अकसर महिलाएं अपने उपर ध्यान नहीं देती हैं जिसके कारण गर्भ में पल रहे बच्चे को सही पोषण नहीं मिल पाता। और सही पोषण न मिलने के कारण बच्चे का सही से शरीरिक और मानसक विकास नहीं हो पाता है। जिसके कारण बच्चा अविकसित या अन्य बीमारियों के साथ जन्म लेता है। इसलिए गर्भवती महिलाएं अपने डाइट में सब कुछ शामिल करें जिससे दोनों की सेहत अच्छी रहे।

कच्चा पपीता न खाएं (Kaccha Papita Na Khaye)

एक शोध के अनुसार प्रेगनेंसी में पका पपीता खाया जा सकता है लेकिन आधा कच्चा या पूरा कच्चा पपीता गर्भवती महिलाओं के लिए हानिकारक है। ये बच्चे औा मां के लिए नुकसानदायक है। पपीते को लेकर लोगों में अलग अलग धारणाएं हैं। वैसे अधिकतर देखा गया है कि गर्भवती महिलाएं पपीते का सेवन नहीं करती है।

नोट- लेख के माध्यम से कुछ भी अपनाने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story