×

What Is Camel Flu Virus: कोरोना के बाद बढ़ा कैमल फ्लू का खतरा, जानें इस बीमारी के लक्षण

What Is Camel Flu Virus: कोरोना महामारी के कारण लाखों लोगों की जान चली गई थी। कोविड ने दुनियाभर में तबाही मचा दी थी। आज भी Covid के केस कम जरूर हो गए हैं लेकिन थमे नहीं हैं।

Anupma Raj
Report Anupma Raj
Published on: 5 Dec 2022 12:39 AM GMT
Camel Flu symptoms
X

Camel Flu (Image: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

What Is Camel Flu Virus: कोरोना महामारी के कारण लाखों लोगों की जान चली गई थी। कोविड ने दुनियाभर में तबाही मचा दी थी। आज भी Covid के केस कम जरूर हो गए हैं लेकिन थमे नहीं हैं। अब फिर एक नए flu के आने का खतरा बढ़ता जा रहा है, जिसका नाम है कैमल फ्लू। दरअसल कतर में फीफा वर्ल्ड कप का आयोजन हो रहा है, इससे दुनिया में कैमल फ्लू फैलने का खतरा बढ़ गया है। ऐसे में आइए जानते हैं क्या है कैमल फ्लू और इसके लक्षण:

क्या है कैमल फ्लू

दरअसल डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना वायरस का म्यूटेशन काफी तेज है। बता दें Covid दवा के असर और बॉडी के इम्यून सिस्टम को देखते हुए खुद का रूप बदल लेता है। कैमल फ्लू भी कोविड वायरस का ही एक रूप है और यह कैमल से लोगों में गया और बाद में एक दूसरे के संपर्क में आकर तेजी से फैलता चला गया।

कतर से खतरा फैलने का चांस

दरअसल कतर में फीफा वर्ल्ड कप हो रहा है। कतर एक रेगिस्थानी एरिया है और यहां काफी संख्या में ऊंट पाए जाते हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि यह वायरस ऊंटों में ही मिलता है और ऊंटों से ही यह वायरस लोगों में पहुंचता है। कतर में दुनिया भर से लोग वर्ल्ड कप देखने पहुंच रहे हैं और लोग ऊंटों की सवारी कर रहें। ऐसे में लोग ऊंटों की सवारी करेंगे और उन्हें छूएंगे, जिससे सीधे तौर पर यह वायरस लोगों को अपनी चपेट में लीे सकता है। बता दें इस ध्यान में रखते हुए फीफा वर्ल्ड के लिए कतर जाने वाले यात्रियों को सफारी और सवारी के दौरान ऊंटों को नहीं छूने की सलाह दी गई है। जानकारी के लिए बता दें कि दुनिया इस वायरस को मर्स मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम के नाम से जानती है। यह वायरस साल 2012 में सउदी अरब में पैदा हुआ और बाद में मिडिल ईस्ट देशों में फैल गया।

क्या हैं कैमल फ्लू के लक्षण

कैमल फ्लू के लक्षण में सांस लेने में परेशानी होने लगती है। इसके अलावा बुखार, सूंखी खांसी, गले में अधिक खराश देखने को मिल सकती है। वहीं स्थिति खराब होने पर निमोनिया बन सकता है। कुछ लोगों में डायरिया और पेट संबंधी भी देखी जा सकती हैं।

कैमल फ्लू से बचाव

कैमल फ्लू से बचने का सबसे अच्छा तरीका है मास्क लगाएं और अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह से धोएं।



Anupma Raj

Anupma Raj

Next Story