कांग्रेस के 200 कार्यकर्ता BJP में शामिल: कमलनाथ बोले, तोड़ दिया ये नियम

मध्यप्रदेश की राजधानी के भाजपा कार्यालय में कांग्रेस के 200 से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा भी मौजूद थे।

भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी के भाजपा कार्यालय में कांग्रेस के 200 से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा भी मौजूद थे। जानकारी के मुताबिक सिंधिया के समर्थक प्रभुराम चौधरी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भाजपा में एंट्री करवाई है। इस आयोजन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न किए जाने का आरोप लगाते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सवाल खड़े किये हैं।

ये भी पढ़ें: झारखंड के इस मंत्री ने 35 साल तक किया ये काम, अब बन गये मिसाल

भाजपा के प्रदेश कार्यालय में आयोजित समारोह में सांची विधानसभा और रायसेन नगर ग्रामीण के सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता और पदाधिकारी शनिवार को भाजपा में शामिल हुए। सदस्यता लेने वालों में मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य, जिलाध्यक्ष, पूर्व जिलाध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष, यूथ कांग्रेस अध्यक्ष सहित सरपंच एवं प्रमुख कार्यकर्ता शामिल थे।

मध्यप्रदेश में बड़े लक्ष्य के लिए परिवर्तन हुआ

समारोह के दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश को बचाने के लिए त्याग का अनुपम उदाहरण डॉ प्रभुराम चौधरी ने पेश किया। उन्होंने मंत्री पद त्यागकर सत्य का साथ दिया। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में बड़े लक्ष्य के लिए परिवर्तन हुआ है। उन्होंने कहा कि जनता के हित के लिए सिंधिया जी और उनके समर्थक विधायकों ने त्याग की मिसाल पेश की है।

ये भी पढ़ें: BJP विधायक का विवादित बयान, कोरोना वायरस को लेकर कही ये बात

कांग्रेस ने सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन का लगाया आरोप

कांग्रेस ने बीजेपी नेताओं पर सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन का आरोप लगाया है। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भाजपा कार्यालय में आयोजित सदस्यता अभियान में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न किए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि शिवराज जी, कल कोरोना की समीक्षा के दौरान नियमों के पालन पर आप प्रदेशवासियों को सख्त चेतावनी दे रहे थे, आज क्या हुआ?

ये भी पढ़ें: लड़कों का बियर्ड लुक केवल स्टाइल के लिए नहीं, इस वजह से भी है फायदेमंद

उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यालय में आज लॉकडाउन में आपकी व अन्य जिम्मेदार बीजेपी नेताओं की उपस्थिति में एक भीड़ भरा कार्यक्रम आयोजित होता है, नियमों का जमकर मखौल उड़ता है, सोशल डिस्टेंसिंग का जरा भी पालन नहीं होता है? क्या मोदी जी के लॉकडाउन के नियम सिर्फ ग़रीबों, आमजन के लिए हैं, आपकी पार्टी के नेताओं पर यह नियम लागू नहीं होते हैं?

ये भी पढ़ें: अब आया कोरोना के इलाज का देसी नुस्खा, ब्रिटिश शोध में हैरान करने वाला खुलासा