अब AAP की नई मांग- LG जंग हों गिरफ्तार, विस कमेटी ने किया तलब

नई दिल्लीः आम आदमी पार्टी ने एनडीएमसी अफसर एमएम खान की हत्या के मामले में दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर नजीब जंग की भूमिका को संदिग्ध बताया है। गुरुवार को पार्टी ने मांग की कि इस मामले में जंग को हटाकर उन्हें गिरफ्तार किया जाए। इसके साथ ही दिल्ली विधानसभा की एक कमेटी ने नजीब जंग और एसीबी चीफ मुकेश मीणा को इस मामले में जवाब देने के लिए तलब भी किया है।

आम आदमी पार्टी की इस मांग पर नजीब जंग के दफ्तर से कहा गया कि ये दुखद है कि खान की हत्या के दुखद मामले में राजनीति की जा रही है। साथ ही कहा गया है कि सीएम अरविंद केजरीवाल की संस्तुति पर एमएम खान के परिवार के लिए एक करोड़ रुपए की सहायता की पेशकश को एलजी ने तुरंत अप्रूव भी कर दिया था।

आम आदमी पार्टी ने क्या कहा?
-पार्टी की दिल्ली इकाई के संयोजक दिलीप पांडेय ने जंग की भूमिका को संदिग्ध बताया।
-दिलीप ने सवाल उठाया कि एलजी ने खान के खिलाफ कार्रवाई के लिए एनडीएमसी को क्यों लिखा।
-दिलीप ने एलजी को पद से हटाने और गिरफ्तारी की मांग भी की।
-दिल्ली पुलिस को एलजी की जगह गृह मंत्रालय को रिपोर्ट करने की मांग भी उठाई।

क्या है मामला?
-एनडीएमसी के संपत्ति अधिकारी एमएम खान की 16 मई को दिल्ली के जामिया नगर में हत्या हुई थी।
-हत्या के अगले दिन उन्हें द कनॉट होटल के पट्टे के मामले में अंतिम फैसला देना था।
-होटल मालिक रमेश कक्कड़ पर खान को रिश्वत की पेशकश करने का आरोप है।
-खान ने इससे मना किया और हत्या के एक दिन बाद एलजी के दफ्तर ने उनके खिलाफ अर्जी को कथित तौर पर एनडीएमसी को कार्रवाई के लिए भेजा।

बीजेपी सांसद ने दिया था धरना
-पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद महेश गिरी को भी आम आदमी पार्टी ने हत्या में शामिल बताया।
-महेश गिरी ने इसके खिलाफ सीएम केजरीवाल को बहस की चुनौती दी।
-गिरी ने दो दिन तक केजरीवाल के घर के बाहर धरना भी दिया था।