×

सीबीआई चीफ पद से हटाए गए आलोक वर्मा, PM की अध्यक्षता में कमेटी ने हटाया

सीबीआई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली उच्चस्तरीय समिति ने गुरुवार को आलोक वर्मा को सीबीआई के निदेशक पद से ही हटा दिया। अब उनको डीजी फायर सर्विसेज बना दिया है। समिति के अन्य सदस्यों में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और जस्टिस एके सीकरी शामिल थे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 10 Jan 2019 2:35 PM GMT

सीबीआई चीफ पद से हटाए गए आलोक वर्मा, PM की अध्यक्षता में कमेटी ने हटाया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: सीबीआई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली उच्चस्तरीय समिति ने गुरुवार को आलोक वर्मा को सीबीआई के निदेशक पद से ही हटा दिया। अब उनको डीजी फायर सर्विसेज बना दिया है। समिति के अन्य सदस्यों में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और जस्टिस एके सीकरी शामिल थे। जस्टिस सीकरी देश के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की तरफ से उपस्थित हुए। यह अहम बैठक दो घंटे से अधिक समय तक चली और आखिरकार आलोक वर्मा को हटा दिया गया।

यह भी पढ़ें.....48 मेगापिक्सल कैमरे वाला Redmi Note 7 लॉन्च, कीमत है इतनी कम

सिलेक्ट कमिटी ने 2-1 से यह फैसला लिया। रिपोर्ट के मुताबिक मल्लिकार्जुन खड़गे ने इस फैसले का विरोध किया। गौर करने वाली बात यह है कि सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को ही आलोक वर्मा को उनके पद पर बहाल कर दिया था।

यह भी पढ़ें.....छोड़िए महंगा पेट्रोल, अब गोबर गैस से दौड़ाइए बाइक

रिपोर्ट के मुताबिक आलोक वर्मा को फायर सेफ्टी विभाग का डीजी बनाया गया है। अधिकारियों के मुताबिक पैनल की बुधवार को हुई बैठक बेनतीजा रही थी। यह खबर ऐसे समय में आई है जब कुछ देर पहले ही सीबीआई सूत्रों ने जानकारी दी थी कि आलोक वर्मा ने गुरुवार को 5 बड़े अफसरों का ट्रांसफर कर दिया था। आपको बता दें कि सीबीआई के भीतर का विवाद करीब 3 महीने से चल रहा है। सरकार ने करीब दो महीने पहले वर्मा को जबरन छुट्टी पर भेज दिया था।

यह भी पढ़ें.....इन आशा वर्कर्स को सलाम, जान की परवाह किए बगैर अपनी ड्यूटी पर अडिग

बता दें कि अलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना ने एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे, जिसके बाद उन्हें जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया था। बुधवार को आलोक वर्मा दोबारा पदभार संभालते हुए एम नागेश्वर राव द्वारा किए गए ज्यादातर तबादले रद्द कर दिए थे। नागेश्वर राव को आलोक वर्मा की अनुपस्थिति में अंतरिम सीबीआई प्रमुख नियुक्त किया गया था।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story