मुलायम के कुनबे में थमी रार तो अमर ने किया इस्तीफे की धमकी का वार

Published by aman Published: August 22, 2016 | 6:52 pm
Modified: August 24, 2016 | 8:34 pm

नई दिल्ली : समाजवादी पार्टी में सीएम अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव के बीच तनातनी को मुलायम सिंह ने बैठकर दूर कराया, तो अब पार्टी के राज्यसभा सांसद अमर सिंह खुद से बेइज्जती का आरोप लगाकर बिफर पड़े हैं। अमर सिंह ने सोमवार को आरोप लगाया कि उन्हें, शिवपाल और यूपी के मंत्री बलराम यादव को पार्टी में अपमानित किया जा रहा है। उन्होंने इस्तीफे की धमकी दी है।

अमर सिंह ने कहा, राज्य सभा सीट के बदले उन्हें अपमानित किया जा रहा है। समाचार चैनल ‘आज तक’ के मुताबिक अमर सिंह ने कहा कि इस्तीफा देना चाहते हैं, लेकिन इस पर फैसला पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव से मिलने के बाद लेंगे। उन्होंने कहा वो अपना इस्तीफा किसी पार्टी नेता को नहीं बल्कि हामिद अंसारी को सौपेंगे।

ये भी पढ़ें …मायावती को एक और बड़ा झटका, ब्रजेश पाठक ने छोड़ी BSP, ज्वाइन की BJP

‘राज्यसभा में मुझे मूक-बधिर बना दिया’
अमर सिंह ने कहा कि राज्यसभा में मुझे मूक-बधिर बना दिया गया है। उन्होंने कहा, ‘मुलायम सिंह नेता हैं या नहीं अब यह तय करना होगा लेकिन मैं मुलायमवादी हूं। पार्टी में मुलायम सिंह की वजह से आया था। मुलायम सिंह की इज्जत करता हूं। सब चीजें मुलायम सिंह से बात करने के बाद ही तय की जाएगी।’

अखिलेश पर लगाए गंभीर आरोप
अमर सिंह ने यूपी के सीएम अखिलेश यादव के बारे में कहा, वो फोन पर नहीं मिलते हैं। उनका सचिव कहता है आपका नाम सूची में डाल दिया गया है आगे सूचित कर दिया जाएगा। आपसे बात करवा दी जाएगी। अमर सिंह का कहना है लेकिन बात नहीं हो पाती।

ये भी पढ़ें …BSP में नंबर दो के ब्राम्‍हण नेता थे बृजेश, LU से शुरू की राजनीति और बने माया के खास

जयाप्रदा के साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं 
अमर सिंह ने आगे कहा, जयाप्रदा के साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा जया को भी अपमानित किया जा रहा है। लेकिन मेरे लिए राजनीतिक रिश्ते से ज्यादा व्यक्तिगत रिश्ते मायने रखते हैं।

सिद्धू  को बताया आदर्श
सपा के राज्य सभा सदस्य अमर सिंह ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू उनके आदर्श हैं। वो उन्हीं की तरह विपरीत विचारों वालों से कोई समझौता नहीं करेंगे।

ये भी पढ़ें …यूपी विधानसभा चुनाव से पहले ABP न्यूज ने किया 403 सीटों पर सर्वे