×

अन्ना की तमन्ना ! 50 लोगों के संगठन से नहीं हटेगा देश का भ्रष्टाचार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 Oct 2017 3:46 PM GMT

अन्ना की तमन्ना ! 50 लोगों के संगठन से नहीं हटेगा देश का भ्रष्टाचार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

रायपुर : समाजसेवी अन्ना हजारे ने बुधवार को कहा कि भ्रष्टाचार मिटाना है तो जल्द ही किसी बड़े संगठन का निर्माण करना होगा। महज 50 लोगों के संगठन से देश व प्रदेश के भ्रष्टाचार को नहीं हटाया जा सकता। समाजसेवी अन्ना हजारे बुधवार को रायपुर में भ्रष्टाचार और नशामुक्त विषय पर जनता को संबोधित करने पहुंचे थे।

ये भी देखें: #NobelPrize 2017 : केमिस्ट्री का नोबेल इन 3 वैज्ञानिकों को

अन्ना हजारे ने कहा, "जीवन में आराम करने के लिए एक बिस्तर है तो खाने का प्लेट भी है। इसलिए मैं वो अनुभव करता हूं, जिसे लखपति और करोड़पति भी अनुभव नहीं कर पाते।"

उन्होंने कहा, "बैचलर होते हुए भी 80 साल की उम्र में अबतक बेदाग हूं। भ्रष्टाचार से लड़ना है तो आपके भीतर शुद्ध विचारों का होना आवश्यक है। मैंने एक विशाल आंदोलन किया, जिससे सरकार को लोकपाल कानून बनाना पड़ा, लेकिन वर्तमान में इस कानून का पालन नहीं किया जा रहा है। इसके लिए भविष्य में मैं फिर से आंदोलन करूंगा।"

ये भी देखें: चाचा पर नरम बीजेपी पर गरम, अखिलेश ही होंगे सपा अध्यक्ष !

अन्ना ने कहा, "छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए सभी छोटे-बड़े संगठनों को एकजुट होना पड़ेगा। भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए त्याग करना होगा, आचार और विचार को शुद्ध रखना होगा।"

सामाजिक कार्यकर्ता कुणाल शुक्ला ने 27 आईएसएस अधिकारियों की सूची अन्ना हजारे को सौंपी, जिनके ऊपर भ्रष्टाचार के आरोप हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story