अन्ना हजारे का ऐलान- आरोप सिद्ध हुए तो अरविंद केजरीवाल के खिलाफ धरने पर बैठूंगा

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) सरकार में पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा की ओर से दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर लगाए जा रहे आरोपों के बीच अन्ना हजारे ने ऐलान किया है कि ‘अगर उनके (अरविंद केजरीवाल) खिलाफ आरोप साबित हुए तो वह धरने पर बैठेंगे और उनका इस्तीफा मागेंगे।’

उल्लेखनीय है कि अन्ना हजारे अरविंद केजरीवाल के गुरू रहे हैं। उन्हीं के साथ केजरीवाल ने लोकपाल और भ्रष्टाचार के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन किया था।

जंतर-मंतर से ही मांगेंगे इस्तीफा 
एक खबरिया चैनल से बातचीत में अन्ना हजारे ने कहा, कि ‘अगर अरविंद केजरीवाल पर कपिल मिश्रा के द्वारा लगाए गए आरोप सच साबित होते हैं, तो वह इसके खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना देंगे। अन्ना बोले कि वह जंतर-मंतर से ही अरविंद केजरीवाल का इस्तीफा मांगेंगे।’

भरोसा तो पहले ही टूट गया था 
अन्ना हजारे का कहना है कि केजरीवाल भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहीम से दिल्ली के मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुंचे हैं। उन्होंने कहा, कि उनका भरोसा तो उसी दिन टूट गया था जब केजरीवाल के मंत्रियों पर तमाम तरह के संगीन आरोप लग रहे थे।