सरकार ने जारी की एडवाइजरी, कोरोना वायरस से बचन के लिए अपनाएं ये तरीका

चीन में कोरोनावायरस (कोरोना वायरस) घातक होता जा रहा है। कोरोना वायरस से अब तक 131 लोगों की मौत हो गई है। कोरोना वायरस के कहर के बीच बुधवार को सेंट्रल हुबेई प्रांत में अधिकारियों ने 25 घातक और 840 नए मामलों की रिपोर्ट दी है।

नई दिल्ली: चीन में कोरोनावायरस (कोरोना वायरस) घातक होता जा रहा है। कोरोना वायरस से अब तक 131 लोगों की मौत हो गई है। कोरोना वायरस के कहर के बीच बुधवार को सेंट्रल हुबेई प्रांत में अधिकारियों ने 25 घातक और 840 नए मामलों की रिपोर्ट दी है। बता दें कि तिब्बत को छोड़कर चीन के सभी प्रांतों में कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं जिससे स्वास्थ्य अधिकारियों के समक्ष इससे निपटने में बड़ी मुश्किलें सामने आ रही हैं।

कोरोना वायरस के कई मामले चीन से बाहर भी सामने आ रहे हैं। चीन की सीमाओं के बाहर वायरस का खतरा बढ़ते देख भारतीय हवाई अड्डों पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

आयुष मंत्रालय के अंतर्गत रिसर्च काउंसिल ने आयुर्वेद, होम्योपैथी और यूनानी चिकित्सा के फायदों के फायदों के बारे में बताते हुए एडवाइजरी भी जारी की है।

कोरोना वायरस के लिए बताई गईं सावधानियां-

-स्वच्छ रहें और अपने आस-पास गंदगी न फैलने दें।

-करीब 20 सेकेंड तक साबुन से अच्छे से हाथ धोएं।

-1 लीटर गर्म पानी में मुस्ता, पर्पत, उशीर और चंदन जैसी चीजों को मिलाकर बॉटल में रख लें और प्यास लगने पर इसे पीएं।

-आंख, नाक या मुंह पर हाथ लगाने के तुरंत बाद हाथ धोएं।

-रोगी व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें।

-खांसी या छींकते समय मुंह पर हाथ जरूर रखें. इसके बाद साबुन से हाथ अच्छी तरह धोएं।

-सार्वजनिक स्थल और कार्य स्थल के अलावा बाहर घूमते वक्त मुंह पर N95 मास्क जरूर पहनें।

-कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर मास्क पहनें और अपने नजदीकी अस्पताल में संपर्क करें।

आयुर्वेद के इन नुस्खों का करें इस्तेमाल

-इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाए रखने के लिए हेल्दी डाइट और लाइफस्टाल को फॉलो करें।

-5 ग्राम अगस्त्य हरीतकी रोजाना दिन में 2 बार गर्म पानी के साथ लें।

-दिन में दो बार रोजाना 500 ग्राम संशमनी वटी का सेवन करें।

-काली मिर्च और अदरक से बने त्रिकटु का 5 ग्राम पाउडर तुलसी की 3 से 5 पत्तियों के साथ गर्म पानी में मिलाकर लें।

-अणु तेल और सीसम के तेल की दो-दो बूंदें रोजाना सुबह नाक में डालें।

कोरोना वायरस में फायदेमंद यूनानी दवाइयां

-दिन में दो बार रोजाना 10 से 20 एमएल शर्बत उन्नब का सेवन करें।

-रोजाना 5 ग्राम तिरयाक नजला लें।

-3-5 ग्राम खमीरा मरवारीद पीएं।

-रोगन बबूना या कफूरी बाम से सिर और छाती में मालिश करें।

-अर्क अजीब की 4-8 बूंदें साफ पानी में मिलाकर पीएं।