×

Baramulla Grenade Attack: बारामूला में वाइन शॉप पर आतंकियों ने फेंका ग्रेनेड, 4 लोग जख्मी

Grenade Attack: जम्मू कश्मीर के बारामुला में शराब की नई दुकान पर आतंकवादियों ने ग्रेनेड से हमला कर दिया। इस हमले में कई नागरिक घायल हुए हैं।

Krishna Chaudhary
Updated on: 2022-05-17T21:49:44+05:30
Baramulla Grenade Attack: बारामूला में वाइन शॉप पर आतंकियों ने फेंका ग्रेनेड, 4 लोग जख्मी
X

ग्रेनेड अटैक (कॉन्सेप्ट फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Baramulla Grenade Attack: जम्मू-कश्मीर से एक आंतकी घटना की खबर सामने आई है। खबर के मुताबिक, आतंकियों ने बारामूला जिले (Baramulla) में एक वाइन शॉप को निशाना बनाते हुए उसपर ग्रेनेड से हमला किया है। इस हमले में चार लोग जख्मी बताए जा रहे हैं। इनमें से एक की हालत चिंताजनक बताई जा रही है। सभी को नजदीकी अस्पताल में उपचार के लिए एडमिट करवाया गया है। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही सुरक्षाबल एक्टिव हो गए हैं और उन्होंने इलाके की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

उत्तरी कश्मीर का आतंकवाद प्रभावित जिला बारामूला आतंकी गतिविधियों (Terrorists Activity) के लिए कुख्यात रहा है। यहां कई आतंकी हमले हो चुके हैं। बीते दिनों यहां आंतकियों द्वारा एक सरपंच को गोलियों से भून दिया गया था। जिसके बाद से इलाके के निर्वाचित पंचायत स्तर के जनप्रतिनिधि खौफ में रहने लगे थे। माना जा रहा है कि अब भी यहां कश्मीर में सक्रिय विभिन्न आतंकी संगठनों के आतंकवादी छिपे हुए हैं।

अप्रैल में सुरक्षाबलों को मिली थी बड़ी कामयाबी

बीते माह अप्रैल में सुरक्षाबलों को आंतकियों के साथ मुठभेड़ में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई थी। सुरक्षाबलों ने इस दौरान लश्कर – ए – तैयबा के शीर्ष कमांडर युसूफ कांतरू समेत तीन आतंकियों को मार गिराया था। युसूफ कांतरू का मारा जाना सुरक्षाबलों के लिए एक बड़ी कामयाबी थी। क्योंकि वो लंबे समय से कश्मीर घाटी में खौफ का पर्याय बना हुआ था।

अधिकारियों ने बताया था कि कांतरू घाटी में सबसे ज्यादा समय तक जीवित रहने वाला आतंकवादी कांतरू सुरक्षा बल के कई कर्मियों और असैन्य नागरिकों की हत्या में लिप्त रहा है। यही वजह है कि उसे जम्मू कश्मीर के 10 सबसे वांछित आंतकवादियों की सूची में गिना जाता था। युसूफ कांतरू पहले घाटी में सक्रिय एक अन्य पाकिस्तानी आतंकी संगठन हिजबुल के लिए काम करता था, फिर वो बाद में लश्कर में शामिल हो गया था।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story