अभी अभी लॉक डाउन को लेकर बड़ा एलान, अब न करें ये गलती

केंद्र सरकार ने लॉक डाउन डीएम और एसपी के पेंच कसते हुए कहा है कि राज्य और जिले के बॉर्डर पूरी तरह से सील कर दिये जाएं, ताकि लोगों का एक राज्य से दूसरे राज्य या एक जिले से दूसरे जिले में कोई आवाजाही न हो सके।

नई दिल्लीः अभी अभी केंद्र सरकार ने लॉक डाउन को लेकर बड़ा एलान करते हुए निर्देश जारी किया है कि सभी राज्यों और जिलों की सीमाएं पूरी तरह सख्ती से सील कर दी जाएं। निर्देश में कहा गया है कि एक राज्य से दूसरे राज्य या एक जिले से दूसरे जिले के बीच कोई मूवमेंट नहीं होना चाहिए।

निर्देशों में कहा गया है कि हाइवे पर किसी तरह की कोई भी गतिविधि नहीं होने दी जाए। इस दौरान सिर्फ सामान ढोने वाली गाड़ियों को ही आने जाने की अनुमति रहे।

केंद्र सरकार ने लॉक डाउन डीएम और एसपी के पेंच कसते हुए कहा है कि राज्य और जिले के बॉर्डर पूरी तरह से सील कर दिये जाएं, ताकि लोगों का एक राज्य से दूसरे राज्य या एक जिले से दूसरे जिले में कोई आवाजाही न हो सके।

निर्देशों में राज्य सरकारों से भी कहा गया है कि प्रवासी मजदूरों के लिए सभी इंतजाम किए जाएं, ताकि उनको रहने व खाने की कोई समस्या न हो। इसके अलावा प्रतिष्ठानों से कहा गया है कि मजदूरों को समय पर वेतन दे दिया जाए। केंद्र सरकार ने कहा है कि अगर कोई छात्रों और मजदूरों से घर खाली करने कहता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

केंद्र सरकार ने बड़ी संख्या में लोगों के एक राज्य से दूसरे राज्यों के लिए हाईवे पर पैदल ही निकल पड़ने की घटना को गंभीरता से लिया है। क्योंकि इस तरह हजारों लोगों के सड़कों पर उतरने से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। सरकार की कोशिश है कि जो जहां पर है उसे वहीं पर रोक दिया जाए और उसके रहने व खाने पीने का प्रबंध राज्य सरकारें व जिला प्रशासन करे। इसके लिए इजाजत लेकर स्वयंसेवी संस्थाओं को भी आगे आना चाहिए।